Shukra Gochar 2022: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब भी कोई ग्रह अपनी राशि परिवर्तन करता है तो उसका असर सभी राशि के जातकों के जीवन पर पड़ता है। कुछ राशियों पर इन राशि परिवर्तन का शुभ और कुछ पर अशुभ असर पड़ता है। वहीं शुक्र ग्रह दिसंबर में दो बार गोचर करने जा रहे हैं। दिसंबर में कई बड़े ग्रह अपना राशि परिवर्तन करेंगे। वहीं शुक्र दो बार अपना राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। शुक्र के राशि परिवर्तन से कई राशि वालों को भाग्य का पूरा साथ मिलेगा। शुक्र को धन, वैभव, ऐश्वर्य, आकर्षण और भोग विलास का कारक माना जाता है। एक माह में दो बार शुक्र का गोचर बेहद शुभ होने वाला है।

ज्योतिष की गणना के अनुसार शुक्र का पहला राशि परिवर्तन 5 दिसंबर को हो चुका है। शुक्र वृश्चिक राशि से निकलकर धनु राशि में प्रवेश कर चुके हैं। वहीं शुक्र का दूसरा राशि परिवर्तन दिसंबर के आखिर में होगा। शुक्र 29 दिसंबर को धनु से मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे। इनके दो बार राशि परिवर्तन से कुछ राशि वालों को काफी फायदा होने वाला है।

सिंह राशि

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्र गोचर इस राशि वालों के लिए काफी लाभकारी साबित होने वाला है। सिंह राशि के पंचम भाव में शुक्र गोचर करने जा रहे हैं। ऐसे में संतान पक्ष से कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। वैवाहिक जीवन खुशियों से भर जाएगा। परीक्षा में सफलता हासिल होगी। आर्थिक स्थिति में भी सुधार देखने को मिलेगा।

वृश्चिक राशि

इस राशि वालों के लिए दिसंबर में दो बार होने वाला शुक्र गोचर काफी खुशियां लेकर आने वाला है। मंगल को वृश्चिक राशि का स्वामी माना गया है। मंगल और शुक्र में मित्रता का भाव है। ऐसे में आय में वृद्धि हो सकती है। इस दौरान लंबे समय से रुके हुए काम पूरे होंगे। अचानक कहीं से धन लाभ हो सकता है।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों के लिए ये समय काफी शुभ फलदायी साबित होने वाला है। इस दौरान आपकी आय में वृद्धि होगी। परिवार में खुशियां आएंगी। कारोबार में भी काफी लाभ होगा। घर में किसी मांगलिक और शुभ कार्य की शुरुआत हो सकती है। शुभ समाचार की प्राप्ति हो सकती है। प्रेम संबंधों में मधुरता आएगी।

Thursday Remedies: गुरुवार को करें हल्दी के ये खास उपाय, घर की तिजोरी में विराजेंगी मां लक्ष्मी

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Ekta Sharma

  • Font Size
  • Close