Shukra Grah Gochar 2022। ज्योतिष में शुक्र ग्रह को काफी खास माना जाता है और शुक्र ग्रह का जब राशि परिवर्तन होता है तो उसका असर सभी राशि के जातकों पर होगा। सामान्य तौर पर शुक्र ग्रह को एक लाभकारी ग्रह के रूप में देखा जाता है, लेकिन कुंडली में जब इसकी कमज़ोर होती है तो इसका असर लोगों के प्रेम जीवन पर दिखाई देने लगता है। शुक्र ग्रह का कर्क राशि में गोचर 7 अगस्त, 2022 की सुबह 05:12 बजे हो चुका है। शुक्र ग्रह के राशि परिवर्तन के कारण मीन राशि वालों को खास फायदा होगा, हालांकि इस दौरान उन्हें खास उपाय भी करने होंगे। मीन राशि वालों को शुक्र के गोचर काल के दौरान शुक्रवार के दिन कुंवारी कन्याओं को खीर बनाकर खिलाना फायदेमंद होगा।

मीन राशि के लिए शुक्र तीसरे व आठवें भाव का स्वामी

ज्योतिष के मुताबिक मीन राशि के जातकों के लिए शुक्र तीसरे और आठवें भाव का स्वामी है। शुक्र के गोचर काल के दौरान शुक्र मीन राशि वालों के पांचवें भाव यानी कि प्रेम, शिक्षा और संतान के भाव में गोचर करेगा, इस कारण से जीवन में मधुरता व स्नेह देखने को मिलेगा। साथ ही व्यापार में भी सफलता मिल सकती है।

मीन राशि के छात्रों को मिलेगी सफलता

शुक्र के राशि परिवर्तन करने से मीन राशि के छात्र शुक्र के इस गोचर काल के दौरान अच्छी तरह से अपनी पढ़ाई की ओर केंद्रित रहेंगे। शुक्र के साथ सूर्य की उपस्थिति भी रहेगी, जिससे परिणाम ज्यादा अच्छे मिल सकते हैं। कला, संगीत और नाटक आदि में रुचि रखने वाले अभ्यर्थियों का नए अवसर प्राप्त होंगे।

जीवनसाथी के साथ अच्छे पल बिताएंगे

शुक्र राशि के राशि परिवर्तन का असर वैवाहिक जीवन पर भी होगा। मीन राशि के विवाहित जातक अपने जीवनसाथी के साथ सुखद पल बिताएंगे। प्रेम व आपसी समझ में वृद्धि देखी जाएगी। नौकरीपेशा जातकों को भी शुक्र के सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। पदोन्नति, प्रोत्साहन तथा अन्य लाभ मिलने के योग बनेंगे।

पैतृक संपत्ति में लाभ मिलने की संभावना

मीन राशि के जातकों को आर्थिक रूप फायदा हो सकता है। विशेषकर पैतृक संपत्ति में लाभ मिलने के संकेत मिल रहे हैं। परिवार में आपसी वाद-विवाद एवं मनमुटाव खत्म करने का प्रयास करें। स्वास्थ्य को लेकर अलर्ट रहें। खानपान के प्रति सावधानी बरतें।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By:

  • Font Size
  • Close