Shukra Rashi Parivartan 2022: ज्योतिष शास्त्र में शुक्र ग्रह को सबसे महत्वपूर्ण माना गया है। शुक्र ग्रह के शुभ होने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। वहीं शुक्र देव अगर अशुभ हो तो व्यक्ति को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। वहीं शुक्र देव 7 अगस्त को राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। इस दिन शुक्र देव कर्क राशि में प्रवेश करेंगे। ग्रहों के राशि परिवर्तन का सभी राशियों पर प्रभाव पड़ता है। शुक्र के राशि परिवर्तन से कुछ राशियों के अच्छे दिन शुरू हो जाएंगे। तो वहीं कुछ राशि वालों को सावधान रहने की जरूरत है। आइए जानते हैं कि शुक्र के राशि परिवर्तन से किस राशि का कैसा हाल होगा।

मेष राशि -

वृषभ राशि -

मिथुन राशि -

कर्क राशि -

सिंह राशि -

  • आत्मविश्वास में कमी आएगी।
  • शैक्षिक कार्यों में सफलता मिलेगी।
  • संतान सुख में वृद्धि होगी।
  • धन की कमी आ सकती है।
  • माता-पिता का सहयोग मिलेगा।

कन्या राशि -

  • मान-सम्मान में वृद्धि होगी।
  • आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी।
  • मित्रों का सहयोग मिलेगा।
  • माता के स्वास्थ्य में विकार हो सकता है।
  • कार्य के प्रति जोश व उत्साह बना रहेगा।

तुला राशि -

  • धैर्यशीलता में कमी आएगी।
  • आत्म संयम बनाए रखें।
  • शैक्षिक कार्यों में सुखद परिणाम प्राप्त होंगे।
  • नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा।
  • स्थान परिवर्तन हो सकता है।

वृश्चिक राशि -

  • अपनी भावनाओं को वश में रखें।
  • क्रोध के अतिरेक से बचें।
  • परिवार में शांति बनी रहेगी।
  • संतान की ओर से सुखद समाचार मिलेगा।
  • भौतिक सुखों का विस्तार होगा।

धनु राशि -

  • परिवार में धार्मिक कार्य हो सकते हैं।
  • कार्यक्षेत्र में परिवर्तन संभव है।
  • खर्चों में वृद्धि होगी।
  • परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी।
  • संतान को कष्ट होगा।

मकर राशि -

  • माता से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं।
  • धार्मिक कार्यों पर खर्च बढ़ सकते हैं।
  • आय में वृद्धि होगी।
  • कला व संगीत के प्रति रुझान बढ़ेगा।
  • स्थान परिवर्तन की संभावना है।

कुंभ राशि -

  • वाणी में कठोरता का भाव रहेगा।
  • बातचीत में संयम बनाए रखें।
  • नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा।
  • आय में वृद्धि होगी।
  • वाहन सुख में वृद्धि होगी।

मीन राशि -

  • वस्त्रों आदि पर खर्च बढ़ सकता है।
  • आय में वृद्धि होगी।
  • संतान के स्वास्थ्य में विकार हो सकते हैं।
  • तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे।
  • खर्चों में वृद्धि होगी।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close