राहुल, भगवान गौतम बुद्ध और माता यशोधरा के पुत्र थे। जिनका जन्म 534 ईसा पूर्व हुआ था। राहुल का जन्म तब हुआ जब सिद्धार्थ यानी गौतम बुद्ध अपना महल(कपिलवस्तु) को छोड़ चुके थे। हालांकि उन्हें राहुल के जन्म की सूचना मिल गई थी।

जब गौतम बुद्ध के पिता शुद्धोधन का देहांत हो गया तो वह कपिलवस्तु लौटे। उस समय राहुल 5 वर्ष( किन्हीं ग्रंथों में 9 वर्ष का उल्लेख मिलता है) के थे। बौद्ध धर्म के प्रमाणिक ग्रंथों के अनुसार बाद में राहुल और यशोधरा ने भी बौद्ध धर्म को स्वीकार कर लिया था।

राहुल की मां माता यशोधरा, राजा सुप्पाबुद्धा और पामिता की पुत्री थीं। पामिता, गौतम बुद्ध के पिता यानी शुद्धोधन की बहन थीं। यशोधरा और गौतम बुद्ध एक ही उम्र के थे। गौतम बुद्ध और यशोधरा का विवाह 16 वर्ष की आयु में हुआ था। गौतम बुद्ध का एक पुत्र था जिनका नाम था राहुल।

जब राहुल का जन्म हुआ, उसी दिन राजकुमार सिद्धार्थ यानी गौतम बुद्ध ने ज्ञान की खोज में महल छोड़ दिया है। तब राजकुमारी यशोधरा का जीवन दु:ख से भरा था। वह काफी दुखी रहने लगीं।

पढ़ें : इन्होंने खोजी थी गौतम बुद्ध की जन्मस्थली

लेकिन जब राजकुमारी यशोधरा को पता है कि उनके पति गौतम बुद्ध एक पवित्र जीवन जी रहे हैं। तो उन्होंने भी वह उसे उसके गहने और शाही पोशाक छोड़ दी।

पाएं वर्ष 2016 के विवाह, व्यापार, यज्ञ, गौना, मुण्डन आदि संस्कारों के शुभ मुहूर्त Daily Horoscope & Panchang एप पर. डाउनलोड करें

Posted By:

  • Font Size
  • Close