Lord Hanuman: भीलवाड़ा (राजस्थान) से प्रयागराज के लिए जाती भगवान हनुमान की विशाल प्रतिमा। यह प्रतिमा 22 फरवरी की रात लगभग 11:30 बजे झांसी आई थी और यहां जीआईसी ग्राउंड में रात्रि विश्राम किया। 23 फरवरी की सुबह से ही इस प्रतिमा के दर्शन करने श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया, जो देर शाम तक चलता रहा। सोमवार सुबह गाजे-बाजे के साथ इस प्रतिमा को प्रयागराज के लिए रवाना किया गया। 64 टन वजनी व 28 फीट लम्बी इस प्रतिमा की खास बात यह है कि यह एकल पत्थर से बनी हुई है। देखें वीडियो -

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close