Budh Dosh Upay: भगवान गणेश की पूजा-अर्चना के लिए बुधवार का दिन बेहद महत्वपूर्ण माना गया है। यह दिन लंबोदर को समर्पित होता है। साथ ही बुध ग्रह का भी दिन है। बुध को बुद्धि का कारण कहा जाता है। इस जातक का बुध मजबूत होता है। उसे जीवन में यश और मान-सम्मान की प्राप्ती होती है। बुध ग्रह के कमजोर होने पर व्यक्ति को कई कठिनाईयों को सामना करना पड़ता है। खासतौर पर सिर दर्द, गर्दन और त्वचा समस्या होती है। ज्योतिष शास्त्र में बुध को बुद्धि, वाणी, तर्क और मानसिक योग्यता का ग्रह कहा जाता है। अगर किसी की कुंडली में बुध दोष है, तो उसके कोई काम पूरे नहीं होते। हमेशा एक मानसिक तनाव रहता है। ज्योतिषों के अनुसार कुछ उपायों को करने से बुध दोष को दूर किया जा सकता है।

इन उपायों को करने से होगा लाभ

1. बुध दोष को दूर करने के लिए रिश्तेदारों के साथ संबंध मधुर रखना चाहिए। इस लिए अपने व्यवहार को सुधारें।

2. अगर बुध दोष प्रबल है, तो नाक छिदवाना शुभ माना गया है।

3. गाय की सेवा करने और हरी घास खिलाने से बुध दोष दूर होता है।

4. घर के पूर्व दिशा में लाल झंडा लगाने से बुध दोष दूर होता है।

5. बुध दोष दूर करने के लिए मंत्र (ऊं ऐं ह्वीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे) का 108 बार हर दिन जाप करें।

6. बुधवार के दिन हरे रंग के वस्त्र पहने। वह मूंग दाल का सेवन और दान करें।

7. बुध ग्रह के दोष को दूर करने के लिए चांदी या कांस अपने पर्स में रखें।

8. बुध ग्रह को प्रसन्न करने के लिए हर बुधवार भगवान गणेश की विधि-विधान से पूजा करें।

9. रोजाना स्नान कर स्वच्छ कपड़े पहनकर बुध शांति ग्रह मंत्र (प्रियंगुकलिकाश्यामं रुपेणांप्रतिमं बुधम्, सौम्यं सौम्यगुणोपेतं तं बुधं प्रणमाम्यहम्।।) का जाप करें।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Arvind Dubey