Astrology: ज्ञान, संतान, धन आदि के कारक माने जाने वाले देवगुरु बृहस्पति आज अपनी राशि बदल रहे हैं। बृहस्पति आज से मकर राशि में प्रवेश कर रहे हैं। ज्‍योतिष के लिहाज से यह साल का तीसरा सबसे बड़ा राशि परिवर्तन है। इसका असर सभी राशियों पर होगा। मकर राशि में शनि पहले से मौजूद हैं और गुरु के वहां पहुंचने से नीचभंग राजयोग बनेगा। इससे कुछ राशियों के लिए समस्या आएगी तो कुछ के अच्छे दिन भी आएंगे। यहां हम बता रहे हैं कि किन 6 राशियों को गुरु का यह राशि परिवर्तन मालामाल करने वाला है।

इन 6 राशियों के लिए शुभ है गुरु का राशि परिवर्तन

मेष

मेष राशि के जातकों पर इस समय में मां लक्ष्‍मी की विशेष कृपा बरसेगी। नौकरीपेशा लोगों का वेतन बढ़ सकता है। बिजनेस के लिएस समय बहुत शानदार है। बीमारियों से सतर्क रहें। बड़ा धन लाभ होगा, जो आर्थिक स्थिति को मजबूती देगा। करियर में तरक्‍की और मान-सम्‍मान मिलेगा। परिवार में सुख-शांति रहेगी।

वृषभ

इस राशि के जातकों के लिए भी गुरु का मकर राशि में प्रवेश बहुत शुभ है। भाग्य का साथ मिलेगा, नौकरी के नए अवसर मिलेंगे। आय के नए स्त्रोत खुलेंगे और रूके हुए कार्य भी पूर्ण होंगे। धन-लाभ होगा। निवेश करने के लिए भी अच्‍छा समय है। धर्म कर्म में अधिक मन लगेगा। रोजाना देवी लक्ष्मी की पूजा करें।

सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए यह राशि वरिवर्तन अच्छा समय लेकर आएगा। करियर और आर्थिक स्थिति के लिए समय शुभ है। धर्म-अध्‍यात्‍म में रुचि बढ़ेगी और नया घर-गाड़ी खरीद सकते हैं। वाणी में मिठास रखें और विवाद से दूरी बना कर रखें। भगवान सत्यनारायण का पाठ करें।

वृश्चिक

कार्यक्षेत्र में नई जिम्मेदारी मिल सकती है। लंबे समय से यदि कोई परेशानी में उलझे थे, वो अब खत्‍म हो जाएगी। पैसों की तंगी से भी राहत मिलेगी। खुशियां आएंगी और रुके काम बनने लगेंगे। श्री हनुमान चालीसा का प्रति दिन पाठ करें।

धनु

धन लाभ की संभावना है। करियर के लिए अच्‍छा समय साबित होगा। बिजनेस में बड़ा ऑर्डर मिल सकता है। नई जॉब के मौके बनेंगे। दांपत्य जीवन बेहतर रहेगा। धर्म-अध्‍यात्‍म में रुचि बढ़ेगी। भगवान विष्णु की पूजा करें।

मीन

यह समय आपके लिए काफी अच्छा रहेगा। धनलाभ की संभावना है। जॉब में बड़ी सफलता मिल सकती है। बिजनेस करने वालों को भी लाभ होगा। नया कार्य प्रारंभ कर सकते हैं। नए रास्‍तों से पैसे आएंगे और सम्‍मान मिलेगा। परिवार में खुशियां रहेंगी। प्रति दिन रामरक्षास्त्रोत का पाठ करें।

Posted By: Sandeep Chourey