बुधादित्य राज योग : प्रत्येक ग्रह एक निश्चित अवधि के भीतर गति करता है। यह बदलाव यानी राशि का परिवर्तन मानव जीवन को प्रभावित करता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, जब भी कोई ग्रह राशि परिवर्तन करता है या किसी अन्य ग्रह में विलीन होता है, तो इसका सीधा प्रभाव मानव जीवन पर पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य ने 15 जून को मिथुन राशि में प्रवेश किया था। वहीं बुध जुलाई में इस राशि को पार करने वाला है। जिससे मिथुन राशि में बुधादित्य योग बनेगा। मिथुन राशि में बनने जा रहे इस बुधादित्य को जोड़ना बेहद शुभ है। यह राज योग के अंतर्गत आता है। अत: इस योग का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा, लेकिन तीन राशियों के जातक ऐसे हैं जो इस योग से अच्छे परिणाम प्राप्त कर सकते हैं। आइए जानें कब और कैसे बनेगा यह योग

क्‍या है बुधादित्‍य योग

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य ने 15 जून को मिथुन राशि में प्रवेश किया था। वहीं बुध जुलाई में इस राशि को पार करने वाला है। जिससे मिथुन राशि में बुधादित्य योग बनेगा। ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को प्रतिष्ठा का कारक माना गया है। वहीं बुध को बुद्धि और व्यापार का दाता कहा जाता है। इसलिए इस योग का प्रभाव मानव जीवन में अवश्य देखना चाहिए। आइए जानते हैं किस राशि के जातकों के लिए शुभ रहने वाला है।

इन राशियों को मिलेगा लाभ

सिंह: आपकी राशि से 11वें भाव में बुधादित्य योग बनेगा। जिसे आय और लाभ का स्थान कहा जाता है। तो आपकी आमदनी इस समय अच्छी तरह से बढ़ सकती है। साथ ही आय के नए स्रोत भी बनेंगे। वहीं इस दौरान नए व्यापारिक संबंध बन सकते हैं। वहीं व्यापार में नए अनुबंधों को अंतिम रूप दिया जा सकता है। साथ ही इस समय व्यावसायिक लाभ भी अच्छा रहेगा। आपकी राशि सिंह पर सूर्य देव का शासन है और ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह और सूर्य देव के बीच मित्रता का भाव है। इसलिए यह जोड़ आपके लिए शुभ साबित हो सकता है।

कन्या: दशम भाव में आपकी राशि से बुधादित्य योग बनेगा। इसलिए इस समय आपके मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। आपको कोई पुरस्कार भी मिल सकता है। साथ ही इस समय आपको नौकरी का कोई नया ऑफर भी मिल सकता है या नौकरी करने पर आपको प्रमोशन भी मिल सकता है। इस समय आप व्यापार में अच्छा पैसा कमा सकते हैं। साथ ही इस दौरान आपकी कार्यशैली में भी सुधार आएगा। जिससे बॉस आपसे खुश हो सकता है और आपकी तारीफ हो सकती है। साथ ही इस समय आपको राजनीति में भी सफलता मिल सकती है। समाज में आपकी स्थिति भी बढ़ेगी। आप कोई पन्ना रत्न धारण कर सकते हैं, जो आपके लिए शुभ साबित होगा।

वृष: बुधादित्य योग की संरचना आपके लिए शुभ हो सकती है। क्योंकि आपकी राशि से कहीं और बुधादित्य योग बनेगा। जिसे अर्थ और प्रवचन का स्थान कहा जाता है। इसलिए इस समय आपको अचानक से आर्थिक लाभ मिल सकता है। रुका हुआ पैसा भी मिलेगा। जिन लोगों के करियर में व्याख्यान देना शामिल है, उनके लिए यह एक शानदार समय होने वाला है। वहीं वाहन और जमीन-जायदाद की खरीद-बिक्री के लिए भी समय अच्छा है। राजनीति में सक्रिय रहने से आपको सफलता मिल सकती है। साथ ही यदि आप व्यापार में निवेश करना चाहते हैं तो यह समय अनुकूल है। आप ओपल रत्न धारण कर सकते हैं, जो आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close