Mars Transit 2020: जल्द ही सिंह राशि में शुक्र के परिवर्तन के बाद अब मंगल का राशि परिवर्तन होने जा रहा है। मंगल अब मीन राशि में गोचर करने वाला है। फिलहाल मंगल ग्रह मेष राशि में गोचर कर रहा है। ज्योतिषियों के मुताबिक 4 अक्टूबर 2020 को मंगल ग्रह सुबह 10.06 मिनट पर व्रकी होकर स्वराशि मेष से मीन राशि में प्रवेश कर लेगा। मीन राशि में मंगल 14 नवंबर को सुबह 6.06 मिनट पर एक बार फिर मार्गी होगा। ज्योतिषियों के मुताबिक इसके बाद मंगल ग्रह 24 दिसंबर 2020 को फिर स्वराशि मेष में चला जाएगा। ज्योतिष पंचांग अनुसार मंगल 81 दिनों के लिए ही मीन राशि में रहेगा। मंगल ग्रह के मीन राशि में प्रवेश से मेष, वृष, मिथुन, कर्क, सिंह सहित सभी राशियों को प्रभावित करने जा रहा है। मंगल का यह राशि परिवर्तन देश दुनिया पर भी अपना प्रभाव डालने जा रहा है।

सभी ग्रहों का सेनापति है मंगल

ज्योतिष विज्ञान में मंगल ग्रह को सभी ग्रहों का सेनापति माना गया है। मंगल मेष राशि और वृश्चिक राशि का स्वामी है। मकर राशि में मंगल उच्च और कर्क राशि में नीच होता है। सूर्य, चंद्र और बृहस्पति यानि गुरु ग्रह से मंगल की मित्रता है। बुध से मंगल की नहीं बनती है। शुक्र और शनि से मंगल न दोस्त न दुश्मनी वाली स्थिति रहती है।

जन्म कुंडली में मंगल का ऐसा रहेगा प्रतिफल

ज्योतिष विज्ञान के मुताबिक जन्म कुंडली में जब मंगल शुभ होता है तो व्यक्ति को साहसी, निडर बनाता है। जिन लोगों की ऐसी कुंडली होती है, वे लोग काफी पराक्रमी होते हैं और क्रोधी स्वभाव के होते हैं। कई लोगों के कुंडली में अशुभ मंगल जेल, दुर्घटना, तलाक, ऑपरेशन और तनाव का भी कारण बनता है। जन्म कुंडली में मंगल की भूमिका को बहुत प्रभावी माना जाता है। मंगल को आवेश और ऊर्जा का कारक माना गया है।

मीन राशि वालों पर मंगल ग्रह का प्रभाव

मंगल का यह गोचर मीन राशि वालों के लिए मिलाजुला परिणाम देने वाला हो सकता है। फिलहाल मंगल वक्री यानि उल्टी चाल चल रहा है। ऐसे में मंगल शुभ परिणाम कम ही दे सकता है क्योंकि वक्री अवस्था में ग्रह पीड़ित होता है, जिस कारण शुभ फल कम मिलते हैं। मीन राशि वाले इस गोचर काल में सावधान रहें। सीमित संसाधनों में ही अपने सभी कार्यों को करना होगा। इस समय के दौरान पड़ोसियों से रिश्ते खराब हो सकते हैं और यात्रा में भी सावधानी बरतें। दांपत्य जीवन में भी विवाद की स्थिति निर्मित हो सकती है। मधुरता की कमी आ सकती है. सेहत का ध्यान रखें. किसी भी प्रकार के वाद विवाद सें बचें. धर्म कर्म के कार्यों में रूचि लें. बुरी आदतों से बचें.

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस