Palmistry Reading। हस्तरेखा ज्योतिष में सूर्य रेखा का काफी महत्व बताया गया है। हस्त रेखा के जानकारों का मानना है कि सूर्य रेखा का अन्य रेखाओं के साथ यदि सही तालमेल रहता है तो जातक के जीवन में धन व प्रतिष्ठा का योग रहता है। हस्त ज्योतिषों के अनुसार हथेली में सूर्य पर्वत से निकलने वाली रेखाओं का जीवन में अत्यधिक प्रभाव पड़ता है। यदि हाथ में सूर्य पर्वत से कोई रेखा निकलकर शनि पर्वत पर पहुंचे या शनि पर्वत से कोई शाखा सूर्य पर्वत तक पहुंच जाए तो ऐसे लोग काफी भाग्यशाली होते हैं, साथ ही काम में भी काफी चतुर होते हैं।

जिनकी सूर्य रेखा मजबूत, वे होते हैं प्रतिभाशाली

हस्त रेखा ज्योतिष के मुताबिक जिन जातकों की हथेली में सूर्य रेखा मजबूत होती है और अन्य रेखाओं के साथ बेहतर तालमेल होता है तो वे हर काम को अच्छे से करते हैं। यदि सूर्य रेखा से कोई रेखा बुध पर्वत तक पहुंचे यह भी बहुत शुभ चिह्न माना जाता है। हथेली में रेखाओं के ये तालमेल व्यक्ति को जीवन में धन और प्रतिष्ठा देता है। ऐसे लोग अपनी प्रतिभा के बल पर व्यापार में अद्वितीय सफलता पाते हैं।

गुणों में वृद्धि करती है सूर्य रेखा

यदि सूर्य रेखा से निकली हुई कुछ हस्तरेखा ऊपर की तरफ जाती है तो गुणों में वृद्धि करती हैं, लेकिन यदि शाखाएं नीचे की ओर जा रही हों तो यह अपयश की प्राप्ति होती है। सूर्य पर्वत से निकलकर यदि कोई हस्त रेखा गुरु पर्वत की ओर पहुंचती है तो यह राजनीति में सफलता के साथ ही उच्च महत्वाकांक्षा को दर्शाता है। ऐसे लोग हमेशा काम में आगे रहते हैं। इसके अलावा सूर्य से निकलकर कोई रेखा मंगल पर्वत तक पहुंचती है तो व्यक्ति साहसी होता है।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close