Raja Yoga in July 2022: जुलाई में ग्रहों का विशेष प्रभाव हो सकता है। यह ग्रह स्थिति कुछ राशियों के लिए बहुत शुभ है। इस समय शुक्र, वृष और बुध की युति हो रही है। 30 वर्ष बाद शनि अपनी त्रिभुजाकार राशि कुम्भ में है। इसके चलते एक ऐसा योग बन रहा है जो एक बार में ही किसी की तकदीर बदल सकता है। इसे राज योग कहा जा सकता है। कुछ राशियों का इस राजयोग में भाग्य बदल रहा है।

वृष: ज्योतिष में वृष राशि वृषभ की जन्म राशि है। करियर की दिशा में आपको नई दिशा मिलेगी। वृष राशि के जातकों के लिए यह समय अच्छा रहने वाला है और मान-सम्मान में वृद्धि होगी। करियर पूरी तरह बदल जाएगा आपको बड़ा या बुरा मिल सकता है, अच्छे वेतन के साथ नौकरी के नए प्रस्ताव मिल सकते हैं नौकरी में प्रमोशन हो सकता है। जो लोग लंबे समय से आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं उन्हें बड़ा लाभ मिल सकता है समस्या का समाधान होगा और नए घर बनेंगे।

कुम्भ: कुंभ राशि के जातकों के बीच राजयोग 6 बन रहा है जीवन में खुशियां बढ़ेंगी विलासिता के जीवन में आएगी खुशियां। घर में अच्छा काम हो सकता है। आप टूर पर जा सकते हैं। नए तरीकों से बढ़ेगी आमदनी 7 भाग्य हमेशा काम में सहायक रहेगा। यह व्यापार के लिए बहुत अच्छा है।

सिंह: बुध-शुक्र, शनि स्थिति सिंह राजयोग से अचानक आपको ढेर सारा पैसा मिलेगा और झोली भर जाएगी विदेश संबंधों का सपना होगा पूरा। इस समय निवेश पर बड़ा लाभ मिल सकता है। बड़ा फायदा हो सकता है संपत्ति के लिए जीत सकते हैं।

वृश्चिक राशि: ग्रह स्थिति के साथ वृश्चिक राशि के जातकों की आर्थिक स्थिति और करियर के लिए अच्छा समय आ रहा है। जो लोग लंबे समय से आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं उन्हें बड़ा लाभ मिल सकता है समस्या का समाधान होगा और नए घर बनेंगे। नया घर एक कार होगा घर में अच्छा काम हो सकता है आप टूर पर जा सकते हैं नए तरीकों से बढ़ेगी आमदनी। भाग्य हमेशा काम में सहायक रहेगा।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close