न्याय के देवता शनिदेव आज कुंभ राशि में करेंगे प्रवेश, हर राशि के जातक पर पड़ेगा, अच्छा-बुरा प्रभाव

Shani ka kumbh raashi me pravesh: ग्वालियर, (नईदुनिया प्रतिनिधि) शनि देव 30 साल बाद मंगलवार की रात को अपनी स्वराशि कुंभ में प्रवेश करेंगे। शनि देव की इस राशि परिवर्तन से मीन राशि के जातकों पर प्रभाव देखने को मिलेगा। मीन राशि के लोगों पर शनि की साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। वहीं मकर और कुंभ राशि पर साढ़ेसाती अभी बनी रहेगी। बता दें कि साढ़े साती का पहला चरण मीन राशि पर, दूसरा कुम्भ राशि पर और अंतिम चरण मकर राशि पर रहेगा। वहीं, साल 2023 में कर्क और वृश्चिक राशि वालों पर ढैय्या शुरू होगी। ज्योतिषाचार्य सुनील चौपड़ ने बताया कि इसके साथ ही शनि देव के 17 जनवरी को कुंभ राशि में प्रवेश करने से मिथुन, तुला और धनु राशि के जातकों को शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या से मुक्ति मिल जाएगी। लेकिन शनि देव की अपनी ही राशि कुंभ राशि के जातकों को मुक्ति पाने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ेगा।

मेष- इस वर्ष मेष राशि के जातकों को कैरियर के मामले में बेहतरीन परिणाम मिलेंगे। दरअसल, दशम भाव के स्वामी शनि जनवरी माह में कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे जोकि कॅरियर के मामले में कुछ नई उपलब्धियां और आमदनी में बढ़ोतरी का संकेत करते हैं।

वृषभ राशि-इस वर्ष के शुरूआत में शनि आपकी राशि के दशम में रहने वाले हैं , जिसके चलते आपके कार्य मेहनत का पूरा फल मिलेगा, यह वर्ष वृषभ राशि के जातकों के लिए एक अच्छा वर्ष होगा।

मिथुन - इस राशि के जातकों का करियर में आपको अच्छे परिणाम मिलेगे जनवरी से शनि का गोचर आपके नवम भाव पर होगा इससे भाग्य का साथ मिलेगा साथ ही पुरानी समस्या जो पहले से बनी हुई थी, वह दूर होगी।

कर्क- करियर कार्य के हिसाब से यह वर्ष कुछ बेहतरीन होने वाला है। देव गुरु बृहस्पति भाग्य भाव में अप्रैल तक आपके हर कार्य में सहायक होते नजर आ रहे हैं ।शनि के अष्टम भाव में होना भी यह संकेत करती है कि जल्दबाजी में कोई निर्णय न लिया जाए।

सिंह राशि- अप्रैल के बाद देव गुरु बृहस्पति का गोचर मेष राशि यानी आपके भाग्य भाव में होगा। देवगुरु बृहस्पति आपके व्यापार और नौकरी में कुछ नई उपलब्धियों को मिलने का संकेत करते हैं।

कन्या- इस राशि के जातकों के लिये करियर वर्ष के शुरुआत में शनि का कुंभ राशि में गोचर आपके करियर के मामले में अच्छा साबित होगा। प्रतिस्पर्धा में आपको विजय मिलेगी। व्या

तुला -इस वर्ष शनि की ढैया से आपको छुटकारा मिलेगा और शनि एक योगकारक ग्रह के रूप में आपके लिए सहायक बनेंगे। देव गुरु बृहस्पति कार्यक्षेत्र में आने वाली बाधाओं से आपको बचाएंगे

वृश्चिक - इस राशि के जातकों पर 17 जनवरी के बाद शनि की ढैया प्रारंभ हो रही है वैसे या परेशान करने वाली नहीं रहेगी फिर भी निर्णय सोच-समझकर लेने चाहिए। देवगुरु बृहस्पति पूरे वर्ष आपके लिए सहायक रहेंगे।

धनु- इस राशि के जातकों के लिये वर्ष के शुरुआत में ही शनि की साढ़ेसाती से छुटकारा मिलेगा एक सुखद संकेत है। नया वर्ष नई उपलब्धि, नई उम्मीदों के लिए जाना जाएगा। इस वर्ष आपको कार्य क्षेत्र में भरपूर सफलता मिलेगी।

मकर - इसा राशि के जातकों के लिये वर्ष की शुरुआत साढ़ेसाती के अंतिम चरण से हो रही है। 17 जनवरी को शनि जब कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे आपकी साढ़ेसाती का अंतिम चरण शुरू हो जाएगा। आपके लिए अच्छा संकेत है, उतरती हुई साढ़ेसाती आपको कैरियर में कुछ अच्छे संकेत देगी।

कुंभ- इस रासि के जातकों के लिये इस वर्ष कुंभ राशि के जातकों की आय में इजाफा हो सकता है। आप अनुशासित होकर अपने कार्यों को पूरा करेंगे।

मीन - इस राशि के जातकों पर17 जनवरी से शनि की साढ़ेसाती का प्रारंभ हो जाएगा। इसलिए कार्य क्षेत्र में अब निर्णय सोच-समझकर लेने होंगे। देवगुरु बृहस्पति अप्रैल तक आपके लिए सहायक रहेंगे। इसके पश्चात कुछ व्यवसायिक परेशानियां आ सकती हैं।

Posted By: anil tomar

  • Font Size
  • Close