Sharad Navratri 2020: भगवती की आराधना का श्रेष्ठ समय है नवरात्र। नवरात्र यानी कि नौ रातों का समूह। ये रात्रि हैं शक्ति की रात्रि, दिव्यरात्रि, ज्ञान की, अनुष्ठान की, तप की, योग की इसमें साधक अपने आप यानी स्थूल एवं सूक्ष्म देह को जाग्रत करता है। इसलिए तो कहा जाता है-'जाग्रतंहि महा देवि जपं सिद्धि कुरुष्व मे'। जो साधक इन नवरात्र में तप एवं जप करते हैं उन्हें अपनी साधना का फल मिलता है। इसलिए इसे शक्ति उपासना का पर्व भी कहते हैं। इन नौ रातों में पार्वती, लक्ष्मी और सरस्वती के नौ रूपों की पूजा होती है, जिन्हें 'नवदुर्गा' कहते हैं। देवियों के शक्ति स्वरूप की उपासना का यह पर्व प्रतिपदा से नवमी तक निश्चित नौ तिथि, नौ नक्षत्र, नौ शक्तियों की नवधा भक्ति के साथ सनातन काल से मनाया जा रहा है।

देवी दुर्गा के नौ स्वरूप हैं और इन्हें चढ़ाए जाने वाले नैवेद्यों से इन्हें प्रसन्न किया जा सकता है- शैलपुत्री को श्रीफल (जल व जटा वाला), ब्रह्मचारिणी को घृतक्वांरी या ग्वारपाठा, चंद्रघंटा को केला, कुष्मांडा को कुम्हड़ा/सफेद कद्दू, स्कंघ माता को कंदमूल, कात्यायनी को लाल कनेर, कालरात्रि को गुड़हल का फूल, महागौरी को पारिजात और सिद्धिदात्री को लाल चंदन।

मां के इन रूपों की पूरे भक्ति भाव से पूजा-अर्चना की जाए तो देवी का आशीर्वाद मिलने के साथ सभी संकट दूर होते हैं। वैसे तो वर्ष में चार नवरात्र चैत्र, आषाढ़, आश्विन और माघ माह में आते हैं। लेकिन चैत्र और आश्विन के नवरात्र ही मुख्य माने जाते हैं। जबकि आषाढ़ तथा माघ मास की नवरात्रि गुप्त रहती है। इसके बारे में अधिक लोगों को जानकारी नहीं होती। गुप्त नवरात्र विशेष तौर पर गुप्त सिद्धियां पाने का समय है। शारदीय नवरात्र को कुल देवी-देवताओं के पूजन की दृष्टि से भी विशेष माना जाता है।

प्रथमं शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्मचारिणी।

तृतीयं चंद्रघण्टेति कूष्माण्डेति चतुर्थकम्।

पंचमं स्कन्दमातेति षष्ठं कात्यायनीति च।

सप्तमं कालरात्रीति, महागौरीति चाष्टमम्।

नवमं सिद्धिदात्री च नवदुर्गा: प्रकीर्तिता:।

उक्तान्येतानि नामानि ब्रह्मणैव महात्मना:।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020