Tulsi Plant Direction: सनातन धर्म में तुलसी के पौधे को पूजनीय और पवित्र माना जाता है। तुलसी का पौधा आयुर्वेद में औषधीय पौधा माना जाता है। इसे कई जगहों पर आयुर्वेदिक दवा के रूप में भी उपयोग में लिया जाता है। इसके अलावा धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, जहां तुलसी का पौधा होता है वहां मां लक्ष्मी का वास सदैव रहता है और उस परिवार पर भगवान विष्णु की भी कृपा बनी रहती है। लेकिन आपको बता दें कि तुलसी का पौधा घर में रखने के कई नियम होते हैं, जिनका पालन करना जरूरी होता है। आइए जानते हैं क्या हैं वो नियम...

इन दिशाओं में भूलकर भी ना रखें तुलसी का पौधा

- तुलसी के पौधे को कभी भी घर की छत पर नहीं रखना चाहिए, वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसा करने से घरवालों को अशुभ परिणामों को झेलना पड़ता है।

-ज्योतिषशास्त्र के अनुसार जिन जातकों की कुंडली में बुध, धन से संबंध रखते हैं वो लोग तुलसी को छत पर रखते तो उन्हें आर्थिक हानि होने की संभावनाएं बढ़ती हैं।

- इसके अलावा जिन लोगों के छत पर तुलसी का पौधा होता है, उस घर में चिड़िया या कबूतर घोसला बना लेते हैं। यह बुरे केतु की निशानी होती है।

- माना जाता है कि तुलसी के पौधे को छत पर रखने से घर के उत्तर दिशा में चीटियां निकलनी शुरू हो जाती है।

- तुलसी का पौधा पूरब दिशा में भी नहीं रखना चाहिए. इससे व्यापार में हानि होती है और परिवार पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है.

- तुलसी के पौधे को कभी भी साउथ या साउथ वेस्ट दिशा में नहीं रखना चाहिए।

इस तरह लगाएंगे तुलसी पौधा तो होगा लाभ

1. तुलसी के पौधे के लिए सबसे उत्तम दिशा उत्तर दिशा मानी जाती है और अगर उत्तर दिशा में नहीं लगाना है तो आप इसे ईशान कोण में भी लगा सकते हैं। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है।

2. वहीं गुरुवार के दिन तुलसी लगाने से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है, क्योंकि गुरुवार का दिन भगवान विष्णु को समर्पित होता है। वहीं अगर शनिवार के दिन तुलसी का पौधा लगाया जाता है तो इससे व्यक्ति की आर्थिक तंगी दूर होती है।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close