Vakri Shani: सितंबर महीने के महीने में शनि देव मकर राशि में वक्री होने जा रहे हैं। इस वजह से कुछ राशि के लोगों को शनि देव का प्रकोप झेलना पड़ सकता है। सितंबर के महीने में 5 राशियों पर उनकी वक्री दृष्टि रहेगी। शनि के वक्री होने पर उन राशियों की मुसीबत बढ़ जाती हैं, जिन पर शनि की साढ़े साती या ढैय्या चल रही होती है। इस समय 3 राशियों पर शनि की साढ़े साती और 2 राशियों पर शनि ढैय्या की चल रही है। इन राशि के लोगों को सितंबर में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आइए जानते हैं किस राशि के लोगों पर शनि के वक्री होने का क्या असर होगा।

मिथुन

मिथुन राशि पर शनि की ढैय्या चल रही है। इन लोगों को अपनी सेहत का ख्याल रखने की जरूरत है। शनि के मकर राशि में वक्री होने से इनकी आर्थिक तंगी तो दूर होगी, लेकिन सेहत पर नकारात्मक असर पड़ेगा।

तुला

तुला राशि पर शनि की ढैय्या का असर है। हालांकि इस राशि के लोगों को पूरे महीने परेशानी नहीं होगी। सिर्फ सितंबर का आखिरी सप्ताह इनके लिए ज्यादा खतरनाक हो सकता है। इस राशि के लोगों को झगड़े और वाद-विवाद से बचना चाहिए। आर्थिक दृष्टि से शुरुआती तीन सप्ताह बेहतर रहेंगे, लेकिन चौथे सप्ताह में बड़ा नुकसान हो सकता है।

धनु

धनु राशि पर शनि की साढ़े साती का पहला चरण चल रहा है। साढ़े साती की शुरुआत में शनिदेव ज्यादा परेशान नहीं करते हैं। इसी वजह से इस राशि के जातकों के लिए सितंबर का महीना खुशियों भरा होगा। इन लोगों को करियर में सफलता मिलेगी और धन लाभ होगा। निवेश के भी बेहतर योग बनेंगे।

मकर

मकर राशि पर शनि की साढ़े साती का दूसरा चरण चल रहा है। ये लोगों किसी बीमारी की चपेट में आ सकते हैं या किसी दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं। गाड़ी चलाते समय सावधान रहें और पैसे के मामले में पूरी सतर्कता बरतें वरना बड़ा नुकसान हो सकता है।

कुंभ

शनि की साढ़े साती अपने आखिरी चरण में सबसे ज्यादा परेशान करती है और कुंभ राशि पर शनि की साढ़े साती का अंतिम चरण चल रहा है। इस राशि के लोगों पर पारिवारिक समस्‍या आ सकती है। इन हालातों में पैसे की तंगी इन लोगों को कर्ज लेने पर मजबूर कर सकती है। यह समय पूरी सावधानी से निकलें।

Posted By: Navodit Saktawat