नई दिल्ली। डॉक्टर कहते हैं कि अच्छी नींद अच्छे स्वास्थ्य का परिणाम भी है, अच्छे स्वास्थ्य का कारण भी। इसलिए चाहे जो हो जाए, गहरी नींद आपके स्वस्थ जीवन के लिए आवश्यक है। अच्छी नींद के लिए लोग तरह-तरह के नुस्खे आजमाते हैं।रात में गहरी और अच्छी नींद आने के लिए विपरीत करनी आसन बहुत लाभदायक होता है। जानिए इस योगासन की विधि -

  • दीवार से करीब 3 इंच की दूरी पर कम्बल फैलाएं। पैरों को दीवार की ओर फैलाकर कम्बल पर बैठ जाएं।
  • शरीर के ऊपरी भाग को पीछे की ओर झुकाकर कम्बल पर लेट जाएं। इस अवस्था में दोनों पैर दीवार से ऊपर की ओर होने चाहिए।
  • बांहों को शरीर से कुछ दूरी पर जमीन से लगाकर रखें। इस अवस्था में हथेलियां ऊपर की ओर की रखें।
  • सांस छोड़ते हुए सिर, गर्दन और मेरूदंड को जमीन से लगाएं।
  • इस मुद्रा में 5 से 15 मिनट तक बने रहें।
  • घुटनों को मोड़ते हुए दायीं ओर घूम जाएं और फिर सामान्य अवस्था में बैठ जाएं।

विपरीत करनी आसन के लाभ

  • विपरीत करनी योग मुद्रा के अभ्यास से मानसिक तनाव दूर होता है। रक्त संचार को सुचारू बनाता है। अनिद्रा संबंधी रोग में इस आसन का अभ्यास लाभकारी होता है।
  • पैरों में थकान एवं दर्द की स्थिति में इस योग से लाभ होता है।
  • गर्दन और कंधों में मौजूद तनाव को दूर करने के लिए भी यह व्यायाम बहुत ही लाभकारी होता है।
  • यदि आपकी पीठ में दर्द है तो इससे राहत मिलेगी।

क्या-क्या सावधानी बरतें

  • यदि आपकी गर्दन और पीठ में किसी प्रकार की परेशानी हो उस समय इस आसन के अभ्यास से बचें।
  • इस आसन का अभ्यास किसी कुशल प्रशिक्षक की देखरेख में करें।
  • मासिक धर्म के समय महिलाओं को इस आसन का अभ्यास नहीं करना चाहिए।
  • आंखों में तकलीफ की स्थिति में भी इस आसन अभ्यास नहीं करना चाहिए।

Posted By: Arvind Dubey