उज्जैन। अगहन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी मंगलवार से मांगलिक कार्यों के श्रेष्ठ मुहूर्त शुरू होंगे। इसमें विवाह, गृह प्रवेश, गृह आरंभ, मूर्ति प्रतिष्ठा आदि कार्य किए जा सकते हैं। ज्योतिषाचार्य पं.अमर डब्बावाला ने बताया चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से हिन्दू नववर्ष की शुरुआत मानी जाती है। ऐसे में अभी नया साल शुरू होने में करीब 4 माह का समय शेष है। इस दौरान शुभ मांगलिक कार्यों के करीब 65 शुभ मुहूर्त हैं। विभिन्न तारीखों में मांगलिक कार्यों के लिए अलग-अलग मुहूर्त है।

श्रेष्ठ मुहूर्त कब-कब

विवाह

नवंबर-19,20,21,22,23,28,30

दिसंबर-7,11,12

जनवरी-15,16,17,18,20,29,30,31

फरवरी-4,9,10,16,25,26,27

मार्च-2,11

यज्ञोपवीत (उपनयन)

जनवरी-27,29,30,31

फरवरी-6,13,26,28

मार्च-5,6,11

मूर्ति प्रतिष्ठा

जनवरी-17,20,27,29,30,31

फरवरी-1,14,16,21,26,28,

मार्च-6,11

गृह निर्माण भूमि पूजन

जनवरी-16,20,27,31

फरवरी-14,26

गृह प्रवेश, वास्तु

जनवरी-17,27,30,31

फरवरी-26 व मार्च 6

Posted By: Nai Dunia News Network