Basant Panchami 2023: हर साल माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी (Basant Panchami) का त्योहार मनाया जाता है। इस साल 26 जनवरी को ये पर्व मनाया जाएगा। इस दिन मां सरस्वती की पूजा-अर्चना की जाती है, जिन्हें विद्या और ज्ञान की देवी माना जाता है। इस दिन बच्चों की शिक्षा-दीक्षा शुरु की जाती है। माता सरस्वती के आशीर्वाद के बिना आप लेखन, शिक्षा, ज्ञान, कला, संगीत, बुद्धि, बोलचाल आदि में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते। धन की देवी लक्ष्मी होती है, लेकिन अगर बुद्धि ना हो तो धन टिकता नहीं है। इसलिए लक्ष्मीजी के साथ सरस्वती की भी पूजा होती है। इनकी पूजा सिर्फ विद्यार्थियों को ही नहीं, सभी को करना चाहिए। आइए आपको बता दें कि इनकी पूजा में किन चीजों का ध्यान रखना जरुरी है।

बसंत पंचमी: शुभ मुहूर्त और तिथि

क्या करें, क्या ना करें

डिसक्लेमर

इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close