Guru Purnima की रात यानी 5 जुलाई को Chandra Grahan 2020 लगने जा रहा है। यह ग्रहण 8 बजकर 54 मिनट से शुरू होकर और 11.21 बजे खत्म हो जाएगा। यह Lunar Eclipse कुल 2.43 मिनट का होगा और भारत में नजर नहीं आएगा। इस वजह से कहा जा रहा है कि इसका असर और सूतक भी नहीं माना जाएगा। यह एक उपछाया चंद्र ग्रहण है जिसमें चंद्रमा पूरी तरह से काला नहीं होता और धुंधला नजर आता है। यह ग्रहण अमेरिका, यूरोप और ऑस्ट्रेलिया के कुछ हिस्सों में देखा जा सकेगा। हालांकि, इसका असर भारत में नहीं है लेकिन एक महीने में तीन ग्रहण को ज्योतिषी शुभ नहीं मान रहे।

पिछले महीने ही देश में पूर्ण ग्रहण लगा जिसमें लोगों ने रिंग ऑफ फायर भी देखी थी। वहीं सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण 2018 में लगा था जो सबसे लंबा था। यह ग्रहण 3 घंटे 55 मिनट तक रहा था और इसका असर भारत में भी नजर आया था। इसमें भी पूर्ण ग्रहण 1 घंटे 43 मिनट का था।

इस दिन लगा था यह ग्रहण

नासा द्वारा इस ग्रहण को सबसे लंबा करार दिया गया है। यह ग्रहण 27 जुलाई की रात 11.54 बजे शुरू हुआ था और शनिवार की सुबह 3.49 बजे तक चला था। इस दौरान पूर्ण ग्रहण हुआ था और भारत में यह रात 1.51 बजे नजर आया था।

26 जुलाई 1953 को पड़ा था 20वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण

इससे पहले 26 जुलाई 1953 को 20वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण पड़ा था। अपनी पूर्णावस्था में यह लगभग 101 मिनट रहा था और इसका कुल ग्रहण समय 5 घंटा 27 मिनट था।

इस दिन लग सकता है अगला ग्रहण

इसके बाद संभवतः 26 जून 2019 को लग सकता है वहीं इसके बाद 9 जून 2123 में इतना लंबा Lunar Eclipse देखने को मिलेगा।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan