Chandra Grahan, Lunar Eclipse July 2020 Photos: साल का तीसरा चंद्रग्रहण भारतीय समयानुसार सुबह 8.37 मिनट पर लगा। यह सुबह 11.27 बजे खत्म हो गया। यह ग्रहण कुल 2 घंटे 43 मिनट रहा। इसका सबसे ज्यादा प्रभाव 9.59 बजे रहा। वैसे यह चंद्रग्रहण भारत में नहीं दिखा, इसलिए कोई सूतक नहीं था। यह उपछाया चंद्र ग्रहण है। इसका प्रभाव 20 जुलाई तक बना रहेगा।

यह चंद्रग्रहण कुछ दक्षिण एशियाई देशों समेत अमेरिका, यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में दिखाई दिया। पिछले एक महीने में यह तीसरा ग्रहण था। 5 जून 2020 को चंद्रग्रहण लगा था जबकि 21 जून को सूर्यग्रहण लगा था। ये दोनों ग्रहण भारत में दिखाई दिए थे।

उपछाया चंद्र ग्रहण:

यह उपछाया चंद्र ग्रहण है जो भारत में दिखाई नहीं दिया। इस वजह से इसका सूतक भी नहीं माना जाएगा। ये ग्रहण धनु राशि और पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में लगा है। धनु राशि आक्रामकता की राशि है, इस ग्रहण की वजह से देश-दुनिया में युद्ध और विवादों जैसी स्थितियां पैदा हो सकती हैं। उपछाया चंद्र ग्रहण में चंद्रमा का कोई हिस्सा ढका हुआ नहीं दिखाई देता। इस दौरान पृथ्वी की छाया चांद के सिर्फ थोड़े से हिस्से पर पड़ती है और इस वजह से चांद कुछ देर के लिए थोड़ा धूमिल दिखाई देता है।

लॉस एंजिल्स में यह ग्रहण चार जुलाई को स्थानीय समयानुसार 8.05 बजे शुरू हुआ और 10.52 तक दिखाई दिया। केपटाउन में यह पांच जुलाई को स्थानीय समयानुसार सुबह 5 बजे खत्म हुआ। अब इसके 5 महीने 25 दिनों बाद 30 नवंबर को चंद्रग्रहण लेगा। 14 दिसंबर 2020 को पूर्ण सूर्यग्रहण लगेगा तो भारत में नहीं दिखाई देगा।

इस साल कुछ 6 ग्रहण:

इस साल कुल मिलाकर 6 ग्रहण (सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण) लगने हैं। यह चौथा ग्रहण है। इसके बाद पांचवां ग्रहण 30 नवंबर को चंद्र ग्रहण होगा और छठा ग्रहण 14 दिसंबर को सूर्य ग्रहण होगा।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020