Devshayani Ekadashi 2020: सनातन संस्कृति में एकादशी तिथि को मोक्षदायिनी और पुण्यफल देने वाली माना जाता है। एकादशी तिथि में ऐसी ही तिथि देवशयनी एकादशी है। शास्त्रोक्त मान्यता है कि इस भगवान श्रीहरी शयन के लिए प्रस्थान करते हैं और चार महिनों तक शयन करते हैं। भगवान विष्णु के शयन की इस अवधि को चातुर्मास भी कहा जाता है। यह तिथि हर साल आषाढ़ माह में शुक्ल पक्ष की एकादशी को आती है। इस वर्ष यह तिथि 1 जुलाई बुधवार को है। वैष्णव संप्रदाय में इस तिथि का खास महत्व है। इस दिन भगवान विष्णु क्षीरसागर में शयन के लिए प्रस्थान कर जाते हैं। इस दिन भगवान लक्ष्मीनारायण की पूजा का विशेष महत्व है।

देवशयनी एकादशी का शुभ मुहूर्त

दिनांक - 1 जुलाई, बुधवार

देवशयनी एकादशी का प्रारंभ - 30 जुन की शाम को 07 बजकर 49 मिनट से

देवशयनी एकादशी का समापन - 1 जुलाई को शाम में 5 बजकर 29 मिनट पर

देवशयनी एकादशी की पूजा विधि

देवशयनी एकादशी को ब्रह्म मुहूर्त में उठकर सबसे पहले भगवान विष्णु का स्मरण करते हुए उनको प्रणाम करें। इसके बाद गंगाजल या स्नान के जल में गंगाजल डालकर स्नान करें और व्रत का संकल्प लें। स्नान के बाद भगवान सूर्यदेव को अर्घ्य दें। अब भगवान विष्णु का चित्र या प्रतिमा एक पाट पर रखें। श्रीहरी की पूजा फल, फूल, दूध, दही, पंचामृत,धूप-दीप आदि से करें। धूप-दीप जलाएं। पीली वस्तुओं का भगवान को भोग लगाएं। दिन भर उपवास रखें और संध्या के समय पुनः आचमन कर आरती भगवान विष्णु की आरती उतारें। इसके बाद फलाहार ग्रहण करें।

देवशयनी एकादशी तिथि को भगवान विष्णु के मंत्रों का जाप करने से उनकी कृपा प्राप्त होती है। श्रीहरी के मंत्रों का जाप तुलसी या चंदन की माला से करना श्रेष्ठ और शुभ फलदायी होता है। देवशयनी एकादशी पर भगवान विष्णु के इन मंत्रों का जाप करें।

संकल्प मंत्र

सत्यस्थ: सत्यसंकल्प: सत्यवित् सत्यदस्तथा।

धर्मो धर्मी च कर्मी च सर्वकर्मविवर्जित:।।

कर्मकर्ता च कर्मैव क्रिया कार्यं तथैव च।

श्रीपतिर्नृपति: श्रीमान् सर्वस्यपतिरूर्जित:।।

भगवान विष्णु को प्रसन्न करने का मंत्र

सुप्ते त्वयि जगन्नाथ जगत सुप्तं भवेदिदम।

विबुद्धे त्वयि बुध्येत जगत सर्वं चराचरम।

भगवान विष्णु क्षमा मंत्र

भक्तस्तुतो भक्तपर: कीर्तिद: कीर्तिवर्धन:।

कीर्तिर्दीप्ति: क्षमाकान्तिर्भक्तश्चैव दया परा।।

Posted By: Yogendra Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना