हैदराबाद। गणेशोत्सव के पहले दिन घर-घर में गणेशजी का स्थापना हो रही है और जगह-जगह 'गणपति बप्पा मोरिया' गूंज रहा है। इस बीच, देश के प्रसिद्ध गणेश मंदिरों में जबरदस्त रौनक है। इसी क्रम में हैदराबाद के खैरताबाद गणेश की तस्वीरें सामने आई है। यह सबसे ऊंची गणेश प्रतिमाओं में से एक है। इस बार यहां गणेशजी को सूर्य भगवान के अवतार में स्थापित किया गया है। See Pics Below -

इस बार यहां 61 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित की गई है। यहां हर साल अलग-अलग थीम पर प्रतिमा बनाई जाती है। इस बार गणेशजी सूर्य अवतार में हैं, जिनका मुख सूर्य की तरह है। उनके 12 मुख, 24 हाथ हैं और वे 7 घोड़ों की सवारी कर रहे हैं। यहां देशभर से भक्त पहुंंच रहे हैं।

इस मूर्ति का वजन 50 टन बताया गया है। इसे सी. राजेंद्रन, वेंकट गुव्वाला और उनकी टीम ने तैयार किया है। इसे बनाने में तीन महीने का समय लगा है। दावा किया जा रहा है कि यह देश की सबसे ऊंची बारह मुखी गणेश प्रतिमा है।

खैरताबाद गणेश उत्सव समिति के सदस्य संदीप राज बताते हैं कि यहां 1954 से गणेश स्थापना हो रही है। इस गणेश मंडल की शुरुआत स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एस. शंकरय्या ने की थी।

गणेशोत्सव के दौरान यहां 7 हजार भक्त रोज दर्शन करते हैं। इस विशाल गणेश प्रतिमा को चढ़ाई जाने वाली फूलमाला का वजन ही लगभग 2 से 4 टन तक होता है।

Posted By: Arvind Dubey

fantasy cricket
fantasy cricket