Hal Shashthi 2020: भाद्रपद मास कृष्ण पक्ष षष्ठी रविवार 9 अगस्त को हलषष्ठी (हल छठ) पूजा की जाएगी। महिलाएं इस दिन व्रत रखकर पूजा करेंगी। इस दिन माताएं अपनी संतान की दीर्घायु के लिए व्रत व पूजा करती हैं। भोपाल में मां चामुंडा दरबार के पुजारी पं. रामजीवन दुबे गुरुजी ने बताया कि यह पर्व भगवान श्रीकृष्ण के ज्येष्ठ भ्राता बलरामजी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। व्रतधारी के दौरान महिलाएं पसाई धान के चावल एवं भैंस के दूध का उपयोग करती हैं।

ज्योतिषाचार्य सतीश सोनी के अनुसार, भगवान बलराम का प्रधान शस्त्र हल तथा मूसल है। हल धारण करने के कारण भी बलरामजी को हलदार नाम से भी जाना जाता है। भगवान बलराम माता देवकी और वासुदेव की सातवीं संतान हैं। यह पर्व श्रावण पूर्णिमा के 6 दिन बाद विभिन्ना नामों के साथ इसे चंद्रषष्ठी बलदेव छठ रंधन षष्ठी कहते हैं।

इस दिन महिलाएं संतान प्राप्ति अथवा संतान की रक्षा के लिए व्रत रखती हैं। षष्ठी का पर्व 9 अगस्त को सुबह 4 बजकर 18 मिनट से प्रारंभ होकर 10 अगस्त की सुबह 6 बजकर 42 मिनट तक रहेगी।

अखंड सौभाग्य का व्रत हरतालिका तीज 21 को

भाद्रपद माह शुक्ल पक्ष की तृतीया पर 21 अगस्त को हरतालिका तीज मनाई जाएगी। इस दिन महिलाएं अपने पति की दीर्घायु की मनोकामना के साथ व्रत रखेंगी। इस व्रत को तीजा भी कहते हैं। विवाहित महिलाएं अपने अखंड सौभाग्य की कामना के लिए यह व्रत रखती हैं और अविवाहित युवतियां अच्छे वर की कामना के लिए भी इस व्रत को रखती हैं। शिव पुराण के अनुसार भगवान शिव को पति रूप में पाने के लिए मां पार्वती ने इस व्रत को रखा था, इसलिए इस व्रत का महत्व बढ़ जाता है।

कजरी तीजः निर्जला व्रत रखकर पति की दीर्घायु के लिए मांगा आशीर्वाद

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में महिलाओं ने गुरुवार को कजरी तीज के अवसर पर अपने पति की दीर्घायु के लिए निर्जला व्रत रखा। इस दौरान महिलाओं ने शिव-पार्वती की पूजा कर पति की दीर्घायु के लिए आशीर्वाद मांगा। कई शिव मंदिरों में महिलाओं ने भगवान भोलेनाथ का अभिषेक किया।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020