Hanuman Janmotsav 2021: हर साल चैत्र शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि पर हनुमान जन्मोत्सव मनाया जाता है। इसी दिन पवन पुत्र हनुमान जी ने माता अंजनी की कोख से जन्म लिया था। इस साल 27 अप्रैल, मंगलवार को हनुमान जयंति मनाई जाएगी। हनुमान भक्त इस दिन को बड़े ही धूम- धाम से मनाते हैं। माना जाता है है हनुमान जी कलयुग में सबसे जल्दी कृपा करने वाले भगवान हैं। उनकी पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। उनके भक्त इस दिन विधि- विधान से पूजा- अर्चना करते हैं।

क्या है पूजा का मुहूर्त

हनुमान जी के जन्म दिवस के रूप में मनाई जाने वाली चैत्र पूर्णिमा 26 अप्रैल की दोपहर 12 बजकर 44 मिनट से शुरू होकर 27 अप्रैल की रात्रि 9 बजकर 01 मिनट तक चलेगी। इस दौरान आप व्रत रखकर और अपनी राशि के अनुसार मंत्रो का जाप करके हुनुमान जी की विशेष कृपा हासिल कर सकते हैं।

ज्योतिष में 12 राशियां होती हैं। हर राशि के स्वामी अलग-अलग होते हैं। इसी के अनुसार हमें मंत्रों का जाप करना चाहिए। राशि के हिसाब से मंत्रों का जाप करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है। हनुमान जयंति के मौके पर आप अपनी राशि के अनुसार मंत्रों का जाप करके मनवांछित फल पा सकते हैं।

किस राशि के लोग किस मंत्र का करें जाप

मेष राशि - ऊॅं सर्वदुखहराय नम:

वृष राशि - ऊॅं कपिसेनानायक नम:

मिथुन राशि - ऊॅं मनोजवाय नम:

कर्क राशि - ऊॅं लक्ष्मणप्राणदात्रे नम:

सिंह राशि - ऊॅं परशौर्य विनाशन नम:

कन्या राशि - ऊॅं पंत्रवक्त्र नम:

तुला राशि - ऊॅं सर्वग्रह विनाशिने नम:

वृश्चिक राशि - ऊॅं सर्वबंधविमोक्त्रे नम:

धनु राशि - ऊॅं चिरंजीविते नम:

मकर राशि - ऊॅं सुरार्चिते नम:

कुंभ राशि - ऊॅं वज्रकाय नम:

मीन राशि - ऊॅं कामरूपिणे नम:

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags