Hanuman Jayanti 2021: रामभक्त हनुमान जी के प्रकटोत्सव के दिन को हम हनुमान जयंति के रूप में मनाते हैं। यह हमारे प्रमुख त्योहारों में से एक है। हनुमान भक्त सालभर इस दिन का इंतजार करते हैं और बहुत ही उल्लास और सेवाभाव के साथ यह त्योहार मनाते हैं। छोटे से छोटे हनुमान मंदिर में भी इस दिन भंडारा और सुंदर कांड का पाठ आम बात है। आप भी पूरे भक्तिभाव और श्रद्धा के साथ हनुमान जी की पूजा करके अपने कष्टों से छुटकारा पा सकते हैं। इस साल यह पावन पर्व 27 अप्रैल के दिन है। अगर आपकी कुंडली में शनि की साढ़ेसाती और शनि की ढैया चल रही है या फिर शनि अशुभ फल दे रहे हैं तो इस दिन पूजा करने से आपको विशेष फल मिलेगा। ऐसा माना जाता है कि शनिदेव हनुमान जी से डरते हैं और उनके भक्तों को परेशान नहीं करते। इसी वजह से हनुमान जी की पूजा करने से शनिदेव से जुड़ी समस्याएं दूर होती हैं।

आसुरी शक्तियों से भी मिलेगा छुटकारा

मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम के परम भक्त हनुमान को संकट मोचन के नाम से भी जाना जाता है। कुछ हनुमान भक्तों का मानना है कि कलयुग में हनुमान सबसे प्रभावी भगवान हैं और आसानी से अपने भक्तों के संकट दूर करते हैं। उनके नाम का उच्चारण करने से ही आसुरी शक्तियां दूर हो जाती हैं।

शिव के 11वें अवतार हैं हनुमान

हिंदू धर्म के अनुसार मान्यता है कि हनुमान जी ने शिव के 11वें अवतार के रूप में माता अंजनि की कोख से जन्म लिया था। उन्हें परम बलशाली और मंगलकारी माना जाता है। हनुमान जी का आशीर्वाद कलयुग में सबसे ज्यादा प्रभावी है। कथाओं की माने तो हनुमान के जन्म में भगवान विष्णु और बांस के पेड़ का भी योगदान है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Assembly elections 2021
Assembly elections 2021
 
Show More Tags