Hariyali Amavasya 2022 Wishes: हरियाली अमावस्या 28 जुलाई, 2022 को मनाई जाएगी। सावन मास में पड़ने के कारण इसे श्रावणी अमावस्‍या भी कहा जाता है। यह दिन मुख्‍य रूप से पितरों की शांति का माना जाता है। इसके अलावा इस दिन शिव भक्ति का भी विशेष महत्‍व है। श्रावण मास की अमावस्या तिथि इस बार 27 जुलाई बुधवार की रात 9:11 से प्रारंभ होगी, जिस का समापन 28 जुलाई गुरुवार की रात 11:24 बजे समापन होगा। इस दिन गुरु पुष्य का शुभ योग भी बन रहा है। इसलिए इस योग में तर्पण, पिंडदान करना लाभकारी माना गया है। भगवान शिव के शुभ दिन को इन शुभकामनाओं और शुभकामनाओं के साथ मनाएं जो हम आपके लिए लाए हैं। सभी को हरियाली अमावस्‍या 2022 की बधाई, व्हाट्सएप संदेश और एसएमएस भेजें।

हरियाली अमावस बधाई संदेश

आया रे आया हरियाली अमावस्या का त्यौहार है आया

संग में खुशियां और प्यार है लाया

हरियाली अमावस्या की ढेर सारी शुभकामनाएं

____

बारिश की वजह से है हरियाली

अन्दर हरियाली की वजह से है बहार बारिश

सावन की बहार में भगवान की कृपा हो अपरंपार

मुबारक हो आपको हरियाली अमावस्या का त्यौहार।

हरियाली अमावस्या की शुभ कामनायें!

____

हरियाली अमावस्या शायरी

मदहोश कर देती है

हरियाली अमावस्या की बहार

गाता है ये दिल झूम कर

जब झुलु में सखियों के साथ

हरियाली अमावस्या शुभकामनाएं

____

चाँद का गुरुर इस तरह बिखर गया

तुम्हारे आते ही अमावस्या का असमान निखर गया

ऐसी खुदगर्जी को अब क्या नाम दू कि

तुझे मनाने के लिए तेरे इंतज़ार में बिखर गया

हरियाली अमावस बधाई के एसएमएस

पेड़ों पर झूले

सावन की फुहार

मुबारक हो आपको

हरियाली अमावस्या का त्यौहार

____

माँ पार्वती आप पर अपनी कृपा हमेशा बनाए रखे

आपको हरियाली अमावस्या की हार्दिक शुभकामनाएं

____

हरियाली अमावस्या का त्यौहार है

गुंजियों की बहार है पेड़ों पर पड़े है झूले दिलो में सबके प्यार है

हरियाली अमावस्या की हार्दिक बधाई

____

हरियाली अमावस सोशल मीडिया स्‍टेटस

मदहोश कर देती है

हरियाली अमावस्या की बहार

गाता है ये दिल झूम कर

जब झुलु में सखियों के साथ

हरियाली अमावस्या शुभकामनाएं

____

कच्ची-पक्की नीम की निम्बोली, सावन जल्दी आयो रे

म्हारो दिल धड़क जाए, सावन जल्दी आयो रे

हरियाली अमावस्या की हार्दिक बधाई

____

आया अमावस्या का त्यौहार,

सखियों हो जाओ तैय्यार,

मेंहंदी हाथो में रचा के,

कर लो सोलह श्रृंगार,

चूड़ी खन खन खनके

____

मेरा मन झूम-झूम नाचे गाये तीज के हरियाले गीत

आज पिया संग झूलेंगे संग में मनाएंगे हरियाली अमावस्या

हरियाली अमावस्या की शुभकामनाएं

____

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close