Hartalika Teej Upay: हिंदू पंचांग के अनुसार हर साल भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि हरतालिका तीज मनाई जाती है। वहीं इस साल हरतालिका तीज का व्रत और पूजन 30 अगस्त मंगलवार को किया जाने वाला है। हरतालिका तीज का व्रत सुहागिन महिलाएं अपने पति के स्वस्थ जीवन और लंबी आयु की कामना के लिए रखती हैं। वहीं कुंवारी कन्याएं भी हरतालिका तीज का व्रत रख सकती हैं। इससे उन्हें अच्छे वर की प्राप्ति होगी। आज हम आपको हरतालिका तीज के दिन के लिए कुछ उपाय बताने जा रहे हैं। इन उपायों को करने से विवाह से जुड़ी समस्या दूर हो सकती है।

क्या करें उपाय?

- यदि विवाह नहीं हो पा रहा है तो हरतालिका तीज के दिन पार्थिव शिवलिंग बनाकर 21 बेलपत्र उन्हें चढ़ाएं। साथ ही कम से कम 11 या 21 बार उनकी परिक्रमा करें। पूजा के बाद शिवलिंग को बेल के पेड़ के नीचे ही रख दें। इसके बाद देवी कात्यायिनी के विवाह मंत्र का जाप करें।

'कात्यायिनी महामाये महायोगिनीधीश्वरी नन्द गोपसुतं देवि पतिं मे कुरु ते नमः'

- यदि पति पत्नी के बीच प्रेम न हो तो दोनों को हरतालिका तीज के दिन शाम को शिव-पार्वती के मंदिर में एक साथ मिलकर शुद्ध घी के 11 दीए जलाना चाहिए। साथ ही उन्हें प्रार्थना करनी चाहिए कि उनके जीवन में प्रेम का वास हो।

- यदि विवाह में बाधाएं आ रही हैं तो कुंवारी ब्राह्मण कन्या को वस्त्र और मिष्ठान भेंट करने चाहिए। ऐसा करने पर विवाह से जुड़ा हर संकट दूर हो जाएगा।

- यदि कुंडली में विवाह में विवाह योग नहीं बन रहा हो तो इस दिन कन्याओं को देवी पार्वती दो हल्दी की 11 गांठ चढ़ा कर उनके समक्ष अपने कष्ट निवारण की प्रार्थना करनी चाहिए।

- यदि पति पत्नी के बीच कोई तीसरा आ रहा हो तो या प्रेम का अभाव हो तो इस दिन दंपति को साथ में भगवान शिव और पार्वती का अभिषेक दूध में हल्दी या केसर डालकर करना चाहिए।

- हरतालिका तीज के दिन खीर बनाकर भगवान का भोग लगाएं। अगले दिन पति-पत्नी इस प्रसाद को एक कटोरी में साथ खाएं। इससे वैवाहिक सुख बढ़ता है।

- यदि आपका जीवनसाथी आपसे रूठा हो तो इस दिन सुहागिनों को माता पार्वती को चुनरी, नथ, बिछिया और पायल अपने हाथों से पहनाना चाहिए।

- तीज के दिन अपने पति से मांग में सिंदूर भरवाएं। साथ ही सुहाग की चीजें अपने पति के हाथों से पहनें। इससे दोनों के बीच प्रगाढ़ संबंध विकसित होगा।

- हरतालिका तीज पर गणेश मंदिर में सूखे मालपुए चढ़ाने से दांपत्य जीवन में कभी प्यार की कमी नहीं होगी।

- इस दिन पत्नी अपने हाथों से पान का बीड़ा लगाकर शिवजी को चढ़ाएं। और फिर पति को दे दें। इससे वैवाहिक जीवन में प्रेम बढ़ेगा।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By:

  • Font Size
  • Close