Janmashtami 2022: हिंदू पंचांग के अनुसार भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाती है। मान्यता है कि रोहिणी नक्षत्र में अष्टमी तिथि को भगवान कृष्ण का जन्म मथुरा के जेल में हुआ था। भक्त कान्हा के जन्म तिथि को जन्मोत्सव के रूप में मनाते हैं। इस दिन श्रीकृष्ण के बाल रूप की पूजा की जाती है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जो भक्त कृष्ण जन्माष्टमी का व्रत रखकर पूजा करता है। उनके प्रिय चीजों को अपने घर में रखता है। ऐसे जातकों को जीवन में मुश्किलों का सामना नहीं करना पड़ता। उसका वैवाहिक जीवन सुखी रहता है। नौकरी और व्यापार में सफलता मिलती है। ज्योतिषाचार्य के अनुसार कृष्ण जन्माष्टमी का दिन कुछ राशियों के लिए फलदायी होगा। इन पर श्रीकृष्ण की विशेष कृपा बरसेगी।

मेष

आपके रुके कार्यों में गति आएगी। व्यापार में अच्छे नतीजे मिलेंगे। शरीर और मन से प्रसन्न रहेंगे। परिवार के लोगों से कोई बड़ी मदद प्राप्त होगी। अटका हुआ पैसा वापस मिलेगा। जिससे आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। अगर बीमा या निवेश संबंधी कोई प्लान कर रहे हैं, तो समय शुभ रहेगा।

मिथुन

धन के मामले में सफलता प्राप्त होगी। कई मामलों में किस्मत का साथ मिलेगा। आत्मनिर्भर बनने का प्रयास जारी रखें। कमाई को नए स्त्रोत नजर आएंगे। नौकरी के संबंध में कोई नया प्रस्ताव आ सकता है। अविवाहित हैं तो बात आगे बढ़ेगी। किसी संपत्ति में निवेश कर सकते हैं।

सिंह

कोर्ट-कचहरी के काम में सफलता प्राप्त होगी। लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करेंगे। कलाकारों के लिए समय विशेष रूप से अच्छा है। जीवनसाथी के नाम से किए जा रहे कार्य में लाभ होगा। रियल एस्टेट से जुड़े लोगों को बड़ी कामयाबी मिल सकती है।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By:

  • Font Size
  • Close