Makar Sankranti 2020: इस साल Makar Sankranti का त्यौहार 15 जनवरी बुधवार को मनाया जाएगा। Makar Sankranti के दिन दान-पुण्य और स्नान का खास महत्व होता है। Makar Sankranti के दिन भगवान सूर्य 15 जनवरी को रात 2 बजकर आठ मिनट पर उत्तरायण होंगे अर्थात सूर्य अपनी राशि बदलकर धनु से मकर राशि में प्रवेश करेंगे। सूर्य के दक्षिणायन से उत्तरायण होने के इस पर्व पर इस दिन सर्वाथ सिद्धि और रवि,कुमार जैसे दुर्लभ योग का संयोग भी रहेगा। इस बार मकर संक्रांति का वाहन गर्दभ होगा। इस साल Makar Sankranti बुधवार को है इसलिए सारे दिन भर दान-पुण्य और स्नान का महत्व रहेगा। मकर संक्रांति के दिन धनु मलमास की भी समाप्ति हो रही है और इस दिन से शुभ और मांगलिक कार्यों की शुरुआत भी हो जाएगी।

इस दिन से विवाह, गृह प्रवेश, मुंडन, मकान की खरीद-बिक्री, आदि शुभ कार्यों का प्रारंभ हो जाएगा। मान्यता है कि इस दिन किए गए दान-पुण्य का विशेष फल प्राप्त होता है। इस दिन सूर्य के राशि परिवर्तन से शनि की प्रिय वस्तुओं के दान करने की परंपरा है। शनि संबंधी दान के करने से सूर्य देव की विशेष कृपा बरसती है।

मकर संक्रांति का शुभ मुहूर्त

पुण्यकाल का समय - सुबह सात बजकर 19 मिनट से 12 बजकर 31 मिनट तक

महापुण्यकाल का समय - सुबह सात बजकर 19 मिनट से 9 बजकर 3 मिनट तक

मकर संक्रांति का पर्व पौष मास के शुक्ल पक्ष को मनाया जाता है। इसमें मकर शब्द राशि का सूचक है, जबकि संक्रांति का अर्थ होता है संक्रमण अर्थात प्रवेश करना। सूर्य के एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश की प्रक्रिया को संक्रांति कहा जाता है।

Posted By: Yogendra Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan