Nag Panchami 2022: हिंदू धर्म में नाग पंचमी का विशेष महत्व है। इस दिन नाग देवता की पूजा का विधान है। शास्त्रों के अनुसार नाग पंचमी के दिन नाग देवता की प्रतिमा का पूजन करना चाहिए। वहीं इस दिन महादेव की विधिवत पूजा करने वाले मनुष्य को कष्टों से मुक्ति मिलती है। वहीं सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है। इस साल नाग पंचमी त्योहार 2 अगस्त, 2022 को मनाया जाएगा। इस दिन विशेष संयोग भी बन रहा है। नाग पंचमी के दीन तीसरा मंगला गौरी व्रत रखा जाएगा। मंगलवार व्रत मां पार्वती को समर्पित है।

नाग पंचमी 2022 शुभ मुहूर्त

- नाग पंचमी तिथि: 2 अगस्त, 2022

- नाग पंचमी पूजा मुहूर्त: सुबह 05.43 बजे से 08.25 मिनट तक

- अवधि: 02 घंटे 42 मिनट

- पंचमी तिथि आरंभ: 2 अगस्त को 05.13 बजे सुबह से

- पंचमी तिथि समाप्त: 3 अगस्त को 05.41 बजे सुबह तक

नाग पंचमी पर दो शुभ योग

नाग पंचमी पर शिव योग और सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहा है। शिव योग शाम 06.38 मिनट कर रहेगा। उसके बाद सिद्धि योग शुरू होगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार दोनों ही योग में किए गए कार्यों में सफलता मिलती है।

नाग पंचमी इन मंत्रों का करें जाप

1. ऊँ गिरी नमः

2. ऊँ भूधर नमः

3. ऊँ व्याल नमः

4. ऊँ काकोदर नमः

5. ऊँ सारंग नमः

6. ऊँ भुजंग नमः

7. ऊँ महिधर नमः

नाग पंचमी के दिन इन नागों की पूजा की जाती है

1. अनन्त

2. वासुकि

3. शेष

4. पद्म

5. कम्बल

6. कर्कोटक

7. अश्वतर

8. धृतराष्ट्र

9. शड्खपाल

10. कालिया

11. तक्षक

12. पिड्गल

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By:

  • Font Size
  • Close