Navratri Rashifal 2020 : कल यानि 17 अक्टूबर से नवरात्रि फेस्टिवल शुरू होने वाला है। हालांकि कोरोना संक्रमण के चलते हर बार की तरह इस बार नवरात्रि पर्व नहीं मनाया जाएगा। दुर्गा पूजा के लिए कई नियमों का पालन करना होगा। लोग पहले के समान उत्साह से इस बार नवरात्र पर्व में भाग नहीं ले पाएंगे लेकिन आपको यह जानकर खुशी होगी कि इस बार नवरात्रि के दौरान अधिकतर ग्रहों की स्थिति शुभदायी है और ज्यादातर राशियों के लिए यह शुभफलदायी होगी। ज्योतिष विज्ञान के मुताबिक 17 अक्टूबर नवदुर्गा के पहले दिन सूर्य तुला राशि में प्रवेश करेगा। 17 तारीख को बुध और चंद्र भी तुला राशि में विराजमान रहेंगे। चंद्र 18 तारीख को वृश्चिक में प्रवेश करेंगे, लेकिन सूर्य-बुध का बुधादित्य योग पूरी नवरात्रि में रहेगा। इस दौरान 12 राशियों पर ग्रहों की चाल का ऐसा असर होगा -

मेष- इस राशि के लिए विवाह के योग हैं। प्रेम में सफलता मिलेगी। है। धैर्य से काम लें। सत्ता पक्ष से थोड़ी परेशानी हो सकती है। सूर्यदेव को जल दें। कोई ताम्रपात्र अपने पास रखें।

वृषभ - वृषभ राशि वाले लोगों को शत्रुओं पर विजय मिलेगी। रोग आदि से पीड़ित हैं तो उन्हें भी लाभ होगा। उच्चाधिकारियों का आशीर्वाद मिलेगा। राजनीतिक लाभ मिलेगा। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। सूर्यदेव को जल दें।

मिथुन- संतान सुख मिलने के योग हैं। नौकरी में प्रमोशन और धन मिल सकता है। कोर्ट कचहरी में विजय के संकेत हैं। तांबे की बनी कोई वस्तु दान करें।

कर्क- माता से सुख मिलेगा और यश बढ़ेगा। कार्यों में सफलता के साथ सम्मान मिलेगा। दुर्गा चालीसा का रोज पाठ करें। धार्मिक बने रहेंगे। उर्जावान नहीं महसूस करेंगे। लाल वस्तु पास रखें। भगवान शिव का दर्शन करें।

सिंह- आशा के अनुरूप फल प्राप्त होंगे। भाई से मदद मिलेगी। नवरात्रि जवारे जरूर बोएं। कोई बड़ा नुकसान नहीं होगा। शारीरिक चोट लग सकती है। किसी परेशानी में पड़ सकते हैं। भगवान शिव के मंदिर में दूध का दान करें।

कन्या- स्थाई संपत्ति का फायदा हो सकता है या धन वृद्धि के योग बन रहे हैं। कन्या पूजन कर फल दान करें। शिक्षा पेशे से जुड़े लोगों के लिए अच्छा समय है। मानसिक चंचलता पर काबू रखें। नौकरी-चाकरी में नए अवसर मिलेंगे। चने की दाल किसी गरीब को दान करें।

तुला - इस राशि के लिए खुश खबरी मिल सकती है। 3 वर्ष की कन्या की पूजा करें। विरोधी हावी होने की कोशिश करेंगे लेकिन झुक जाएंगे। पीली वस्तु विष्णु मंदिर में दान करें।

वृश्चिक- अनावश्यक खर्च होने के साथ कमाई घट सकती है। देवी को शहद का भोग अर्पित करें। लिखने-पढ़ने में समय व्यतीत करें। केसर का तिलक लगाएं। पीली वस्तु पास रखें। बजरंग बली का दर्शन करें।

धनु- ये नवरात्रि लाभदायक होगी। आय में बढ़ोतरी हो सकती है। मां दुर्गा को खोपरा चढ़ाएं और काली चींटी को मिश्री डालें। अपने स्वास्थ्य पर ध्यान दें। कोई भी पीली वस्तु अर्पित करें। सूर्यदेव के जल चढ़ाएं।

मकर- इस राशि के लिए नवरात्रि अत्यंत शुभ है। मां दुर्गा के मंदिर में 5 प्रकार के फल चढ़ाएं। किसी कार्य की शुरुआत करना चाहते हैं। कुछ लागू करना चाहते हैं तो कर लीजिए। शनिदेव को प्रणाम करें।

कुंभ- इस राशि के लिए भाग्य वृद्धि का समय है। रूके हुए काम पूरे होंगे। मां दुर्गा के 32 नाम दोनों समय पढ़ें। अशुभ शब्दों का प्रयोग न करें। भगवान गणेश की भी वंदना करें।

मीन- वाहन प्रयोग में सावधानी रखनी होगी। दुर्घटना होने के योग हैं। शत्रुओं की वजह से परेशानी हो सकती है। अज्ञात भय से उबरें।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020