Navratri Upay 2022: नवरात्रि का पावन त्योहार 26 सितंबर से शुरु हो रहा है। इन नौ दिनों में मां दुर्गा के 9 स्वरूपों की पूजा-अर्चना की जाती है। इन दिनों को बहुत शुभ माना जाता है। यह अवसर माता को प्रसन्न करने का होता है। मां भवानी शक्तिस्वरूप हैं। उनकी पूजा कर भक्त भी शक्तिमय हो जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नवरात्र में कई चीजों का पालन करना जरूरी है। हालांकि इन नौ दिनों में अलग-अलग चीजों का प्रसाद चढ़ाकर मां दुर्गा को प्रसन्न किया जा सकता है। कहते हैं कि जो जातक सच्चे मन से प्रसाद का भोग लगाकर गरीबों और बच्चों में वितरित करता है। उसके सभी इच्छाएं माता पूरी करती हैं।

नवरात्रि 2022 में करें ये उपाय

26 सितंबर 2022- मां शैलपुत्री (पहला दिन) प्रतिपदा तिथि

शुभ रंग- सफेद, भोग- बर्फी

27 सितंबर 2022- मां ब्रह्मचारिणी (दूसरा दिन) द्वितीय तिथि

शुभ रंग- पीला, भोग- चीनी

28 सितंबर 2022- मां चंद्रघंटा (तीसरा दिन) तृतीया तिथि

शुभ रंग- लाइट ग्रीन, भोग- मालपुआ

29 सितंबर 2022- मां कुष्मांडा (चौथा दिन) चतुर्थी तिथि

शुभ रंग- लाल, भोग- नारियल की बर्फी

30 सितंबर 2022- मां स्कंदमाता (पांचवां दिन) पंचमी तिथि

शुभ रंग- सफेद, भोग-पंचामृत

1 अक्टूबर 2022- मां कात्यायनी (छठा दिन) षष्ठी तिथि

शुभ रंग- ऑरेंज, भोग- काजू बर्फी

2 अक्टूबर 2022- मां कालरात्रि (सातवां दिन) सप्तमी तिथि

शुभ रंग- नीला, भोग- खिचड़ी

3 अक्टूबर 2022- मां महागौरी (आठवां दिन) दुर्गा अष्टमी

शुभ रंग- सफेद, पीला व लाल, भोग- खीर

4 अक्टूबर 2022- सिद्धिदात्ररी (नौवां दिन) नवमी

शुभ रंग- लाल, भोग- पूड़ी खीर

5 अक्टूबर 2022- मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन, दशहरा

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By:

  • Font Size
  • Close