Sawan Shivratri 2021: सावन महीना चल रहा है और सावन में भगवान शिव की पूजा विधि-विधान से की जाती है। इस दौरान भगवान शिव ही सृष्टि का संचालन करते हैं और अन्य सभी देवी-देवता पाताललोक में निंद्रा की अवस्था में चले जाते हैं। सावन महीने की शिवरात्रि भगवान शिव की पूजा के लिए उपयुक्त मानी जाती है। इस साल सावन की शिवरात्रि आज के ही दिन है। आइए जानते हैं इसके बारे में।

हर माह में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है, लेकिन सावन माह में पड़ने वाली मासिक शिवरात्रि का महत्व बहुत ही अधिक होता है।

सावन शिवरात्रि का शुभ मुहूर्त

सावन शिवरात्रि आज शाम 6 बजकर 28 मिनट पर शुरू होगी और 7 अगस्त दिन शनिवार की शाम 7 बजकर 11 मिनट पर समाप्त होगी। शिव भक्त 7 अगस्त को सुबह 5 बजकर 46 मिनट से दोपहर 3 बजकर 45 मिनट तक अपना व्रत खोल सकेंगे। इस शिवरात्रि में सर्वार्थ सिद्ध योग भी है। इसके साथ ही इस दिन आर्द्रा नक्षत्र भी रहेगा, जिसमें शिवजी का अभिषेक बहुत ही उत्तम माना गया है। शिवलिंग पर जलाभिषेक करने के लिए शुभ मुहूर्त सूर्योदय के बाद 2 घंटा 45 मिनट तक रहेगा।

सावन शिवरात्रि पूजा-विधि

सुबह जल्दी उठकर स्नान कर साफ वस्त्र धारण करना चाहिए। घर के मंदिर में दीपक प्रज्वलित करें। सभी देवी और देवताओं का गंगा जल और पंचामृत से अभिषेक करें। भगवान को पुष्प अर्पित करें। भगवान शिवजी की आरती करें और भोग लगाएं।

सावन शिवरात्रि की पूजा सामग्री

फूल, पांच फल, रत्न, सोना, चांदी, पूजा के बर्तन, आसन, दही, घी, शहद, गंगा जल, इत्र, गंध रोली, मौली, मिठाई, बिल्वपत्र, धतूरा, भांग, बेर, आम्र मंजरी, जौ की बालें, तुलसी दल, मंदार पुष्प, गाय का कच्चा दूध, गने का रस, कपूर, धूप, दीपक, रूई, चंदन आदि।

शुभ मुहूर्त

  • ब्रह्म मुहूर्त- 6 अगस्त को सुबह 4 बजकर 20 मिनट से 5 बजकर 03 मिनट तक रहेगा।
  • अभिजित मुहूर्त- 6 अगस्त को दोपहर 12 बजे से 12 बजकर 54 मिनट तक रहेगा।
  • विजय मुहूर्त- 6 अगस्त को दोपहर 2 बजकर 41 मिनट से 3 बजकर 34 मिनट तक रहेगा।
  • गोधूलि मुहूर्त- 6 अगस्त को शाम 6 बजकर 55 मिनट से 7 बजकर 19 मिनट तक रहेगा।
  • अमृत काल- 7 अगस्त को सुबह 5 बजकर 42 मिनट से 7 बजकर 25 मिनट तक रहेगा।
  • निशिता मुहूर्त- 6 अगस्त को रात 12 बजकर 6 मिनट से 12 बजकर 48 मिनट तक रहेगा।
  • सर्वार्थ सिद्धि योग- 7 अगस्त को सुबह 6 बजकर 38 मिनट से शाम 5 बजकर 46 मिनट तक रहेगा।

Posted By: Sandeep Chourey