Sawan Somwar Special: सावन मास में भगवान भोलेनाथ की आराधना अनेक तरीकों से की जाती है। महादेव का जलाभिषेक किया जाता है, उनको शिवप्रिय बिल्वपत्र समर्पित किए जाते हैं, आंकड़ा, परिजात आदि के फूल चढ़ाए जाते हैं और भांग, धतूरे, ऋतुफल, मिष्ठान्न आदि का भोग लगाया जाता है। कैलाशपति शिव को विभिन्न तरह के सुगंधित फूलों को चढ़ाने का प्रावधान है। अलग-अलग तरह के फूलों को समर्पित करने से शिवभक्त को इच्छानुरूप फल की प्राप्ति होती है। आइए जानते हैं। भूतभावन महाकाल को विभिन्न फूलों को चढ़ाने से मिलने वाले फल के बारे में।

शमीपत्र से मिलता है मोक्ष

लाल और सफेद रंग के आंकड़े के फूल से महादेव की पूजा करने से शिवभक्त को मोक्ष की प्राप्ति होती है। इसके साथ ही लंबी आयु का वरदान भी मिलता है।

- चमेली के फूल से शिव पूजा करने से वाहन सुख की प्राप्ति होती है।

- शनिप्रिय शमी वृक्ष के पत्तों को शिव को समर्पित करने से भी मोक्ष की प्राप्ति होती है।

- अलसी के फूलों के शिव आराधना करने से शिवभक्त भगवान श्रीहरी को प्रिय हो जाता है।

- बेला के फूल से शिवलिंग की पूजा करने से सुंदर और सुशील जीवनसाथी की प्राप्ति होती है।

- जूही के फूल से शिव पूजा करने से घर में अन्न के भंडार भरे रहते हैं।

धतूरे के फूल से मिलता है पुत्ररत्न

- कनेर के फूलों को शिवलिंग पर समर्पित करने से नए वस्त्रों की प्राप्ति होती है।

- हारश्रंगार के फूलों से शिव आराधना करने से सुख-संपत्ति की प्राप्ति होती है।

- धतूरे के फूल से भगवान महादेव की पूजा करने से पुत्र रत्न की प्राप्ति होती है। इसमें लाल डंठल वाला धतूरा श्रेष्ठ माना जाता है।

- शिवलिंग पर दूर्वा चढ़ाने से लंबी उम्र प्राप्त होती है।

- जपाकुसूम के फूल महादेव को समर्पित करने से शत्रु का नाश होता है।

- दुपहरिया के फूल भगवान शिव को चढ़ाने से आभूषणों की प्राप्ति होती है।

- शंखपुष्प का फूल शिवलिंग पर चढ़ाने से लक्ष्मी की प्राप्ति होती है।

- चंपा और केवड़ा के फूल शिव पूजन में निषेध माने जाते है।

Posted By: Yogendra Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan