Shani Rashi Parivartan 2022: साल 2022 मेंं न्याय के देवता राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। वैदिक ज्योतिष में शनि के राशि परिवर्तन को बहुत अहम माना गया है क्योंकि शनि ढाई साल में एक बार राशि बदलते हैं। 29 अप्रैल 2022 में शनि मकर से निकलकर कुंभ राशि में परिवर्तन करेंगे। मकर और कुंभ दोनों ही शनि के स्वामित्व की राशि है। अगर कहा जाए कि शनि अपने एक घर से निकलकर दूसरे घर में प्रवेश करेंगे तो गलत नहीं होगा। शनि के राशि बदलते ही मीन राशि पर साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू हो जाएगा, साथ ही कर्क और वृश्चिक राशि पर ढय्या लग जाएगी। मनुष्य को उसके अच्छे-बुरे कर्मों का फल शनिदेव ही प्रदान करते हैं। पुराणों में कुछ ऐसे कामों के बारे में बताया गया है, जिन्हें करने से शनिदेव नाराज हो जाते हैं। आगे जानिए उन कामों के बारे में-

न करें किसी गरीब को परेशान

कुछ लोगों को गरीब लोगों को सताने में बड़ा मजा आता है। ऐसे लोग सिर्फ अपने आनंद के लिए गरीबों पर अन्याय करते हैं। उनकी मेहनत का पैसा देने में आना-कानी करते हैं और उनका शोषण भी करते हैं। ये सभी काम शनिदेव को नाराज करने के लिए काफी है क्योंकि मेहनत करने वाला हर इंसान शनिदेव को प्रिय है। जो भी व्यक्ति इन लोगों के साथ गलत व्यवहार करता है। शनिदेव उसका पीछा नहीं छोड़ते और समय आने पर उसे उचित दंड भी देते हैं।

मांस-मदीरा का सेवन करने से बचें

शनिवार को मांस-मदिरा का सेवन करने से बचना चाहिए। साथ ही इस दिन क्षौरकर्म भी नहीं करना चाहिए। यानी नाखून नहीं काटना चाहिए। दाड़ी और बाल भी नहीं कटवाना चाहिए। शनिवार को लोहे की चीजें और तेल खरीदने से बचना चाहिए। ये काम करने से भी शनिदेव नाराज हो जाते हैं और इसका बुरा परिणाम भविष्य में भुगतना पड़ सकता है।

कर्मचारियों का शोषण न करें

अधीनस्थ यानी अधिकारियों के नीचे काम करने वाले कर्मचारीयों को कभी परेशान न करें। कुछ लोग बड़े पद पर आकर अक्सर अपने अधीनस्थों के साथ गलत व्यवहार करने लगते हैं। छोटी-छोटी बातों पर उनकी सबके सामने बेइज्जती कर देते हैं। जानबूझकर उन पर काम का बोझ लाद देते हैं और अपना काम भी उन्हीं से करवाते हैं। ऐसे लोग शनि की नजर से बच नहीं पाते और इन्हें इस बात का दंड शनिदेव जरूर देते हैं।

Posted By: Arvind Dubey