Til Chaturthi 2022 । जीवन के तमाम दुखों और परेशानियों से मुक्ति पाने के लिए Til Chaturthi का दिन बेहद खास माना जाता है। आज 21 जनवरी Til Chaturthi है और 2 विशेष शुभ योग बन रहे हैं। पौराणिक मान्यता है कि Til Chaturthi पर गणेश जी की पूजा करने से सारे दुख दूर हो जाएंगे। तिल चतुर्थी पर कई श्रद्धालु भगवान गणपति के लिए व्रत रखते हैं। आमतौर पर हर माह गणेश चतुर्थी मनाई जाती है, लेकिन माघ मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी बहुत ही खास होती है। देश के अलग-अलग स्थानों पर इसे अलग नामों से जाना जाता है। कई स्थान पर Til Chaturthi को तिलकुट चौथ या सकट चौथ भी कहा जाता है। इस चतुर्थी को सभी चतुर्थी में से 4 सबसे बड़ी चतुर्थी में से एक माना जाता है।

इस बार तिल चतुर्थी पर बने दो खास योग

आज माघ मास की संकष्टी चतुर्थी 21 जनवरी, शुक्रवार को है। ज्योतिष के मुताबिक चंद्रमा पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र में होता है, जिससे सिद्धि योग बन रहा है। पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र शुक्र का नक्षत्र है और आज शुक्रवार भी है। संकष्टी चतुर्थी के दिन शुक्र ग्रह की उपस्थिति या शुक्रवार के दिन पड़ना भाग्य को बढ़ाने वाला होता है।

तिल चतुर्थी पर जरूर करें ये काम

- तिल चतुर्थी पर सुबह जल्दी नहा लें। खासकर अगर महिलाएं इस व्रत को रख रही हैं तो सुबह व्रत का संकल्प लें। इस दिन दिन निर्जल रहकर उपवास करें।

- शाम को भगवान गणेश और चौथ माता की पूजा करें। साथ में तिल चतुर्थी व्रत की कथा भी सुनें। रात के समय चंद्रमा को अर्घ्य दें। परिवार के बड़ों का आशीर्वाद लें। इसके बाद व्रत तोड़ें।

- तिल चतुर्थी पर तिल के लड्डू, कंबल-गर्म कपड़े और घी आदि का दान करना बहुत शुभ माना जाता है। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है। गाय को हरा चारा खिलाएं। इससे करियर में तरक्की मिलेगी।

Posted By: Sandeep Chourey