Vinayak Chaturthi 16 January 2021: सनातन धर्म में हर माह की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी मनाई जाती है। इस बार विनायक चतुर्थी 16 जनवरी को मनाई जाएगी। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार विनायक चतुर्थी पर पूरे विधि विधान के साथ भगवान गणेश की पूजा अर्चना करने से शुभ फल मिलता है। जैसा कि सभी जानते है भगवान गणेश का ही दूसरा नाम विनायक है। इसलिए विनायक चतुर्थी पर भगवान गणेश ही पूजा अर्चना की जाती है। यह चतुर्थी माह में दो बार आती है, लेकिन जो चतुर्थी तिथि अमावस्था के बाद आती है, उसे विनायक चतुर्थी कहा जाता है। पौराणिक मान्यता है कि अगर विनायक चतुर्थी के दिन कुछ उपाय किए जाएं तो व्यक्ति को शुभ फल की प्राप्ति होती है।

विनायक चतुर्थी पर ये करें उपाय तो जरूर मिलेगा शुभ फल

- अगर आप गणेश जी को शतावरी चढ़ाते हैं तो मानसिक शांति मिलती है।

- भगवान गणेश को गेंदे के फूल चढ़ाने से गृहक्लेश खत्म हो जाता है। गेंदे के फूल की माला को मुख्य द्वार पर बांधने से घर की शांति रहती है।

- विनायक चतुर्थी के दिन गणेश जी को अगर चौकोर चांदी का टुकड़ा चढ़ाया जाए तो संपत्ति को लेकर विवाद समाप्त हो जाता है।

- विद्यार्जन में किसी भी तरह की परेशानी हो रही हो विनायक चतुर्थी पर ऊं गं गणपतये नम: मंत्र का जाप 108 बार चतुर्थी के दिन करना चाहिए।

- विनायक चतुर्थी के दिन भगवान गणेश को 5 इलायची और 5 लौंग चढ़ाए जाने से जीवन में प्रेम बना रहता है।

- अगर आप चाहते हैं कि आर्थिक उन्नति हो तो 8 मुखी रुद्राक्ष विनायक चतुर्थी के दिन गणेश जी चढ़ाने चाहिए।

- वैवाहिक जीवन में परेशानी आ रही हो तो गणेश जी को किसी मंदिर में जाकर हरे रंग का कपड़ा जरूर चढ़ाएं।

- अगर व्यापार में कोई भी परेशानी आ रही है तो कार्यक्षेत्र में गणेश जी की मूर्ति जरूर लगानी चाहिए।

विनायक चतुर्थी महत्व (Vinayak Chaturthi 2021)

चतुर्थी तिथि भगवान गणेश को अत्यंत प्रिय है, यही कारण है कि चतुर्थी को भगवान गणेश की पूजा अर्चना की जाती है। ऐसा करने से भगवान गणेश सभी भक्तों की मनोकामना पूर्ण करते हैं। ज्ञान और धैर्य का आशीर्वाद देते हैं।

पूजन विधि (Vinayak Chaturthi 2021 Pujan Vidhi)

गणेश पूजा दोपहर को मध्याह्न काल के दौरान की जाती है। इस दौरान भगवान गणेश के पूजन से विघ्न दूर होते हैं। व्‍यापार में बढ़ोत्‍तरी होती है। पूजा के बाद दान भी जरूर किया जाना चाहिए।

विनायक चतुर्थी शुभ मुहूर्त (Vinayak Chaturthi 2021 Muhurat)

पौष, शुक्ल चतुर्थी

सुबह प्रारंभ : 07:45, जनवरी 16

मुहूर्त की समाप्ति : 08:08, जनवरी 17

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags