Australia का आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप में दबदबा रहा है। अभी तक हुए ICC World Cup के 12 संस्करणों में Australia ने सबसे ज्यादा 5 बार यह खिताब अपने नाम किया है। आज से ठीक 13 साल पहले 28 अप्रैल 2007 को Australia ने ब्रिजटाउन में श्रीलंका को डकवर्थ-लुईस पद्धति से हराकर ICC World Cup जीत की हैट्रिक लगाई थी।

वेस्टइंडीज में पहली बार आयोजित किया गया ICC Cricket World Cup असफल रहा था। वर्ल्ड कप में पहली बार स्टेडियमों में दर्शकों की कमी खली थी और भारत और पाकिस्तान के ग्रुप चरण से ही बाहर हो जाने की वजह से भी इस वर्ल्ड कप पर बुरा असर पड़ा था। भारत ग्रुप बी में बांग्लादेश और श्रीलंका के हाथों हारकर सुपर 8 दौर में नहीं पहुंच पाया था। दूसरी तरफ पाकिस्तान ग्रुप डी में मेजबान वेस्टइंडीज और आयरलैंड से हारकर वर्ल्ड कप से बाहर हुआ था।

वर्ल्ड कप की दो श्रेष्ठ टीमों ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के बीच फाइनल हुआ। 1999 और 2003 के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के पास खिताबी हैट्रिक का मौका था और यह लगातार तीसरा मौका था जब खिताब के लिए उसकी टक्कर एशियाई टीम से हो रही थी। 1999 में उसने पाकिस्तान और 2003 में भारत को हराकर वर्ल्ड कप अपने नाम किया था।

गिलक्रिस्ट ने जड़ा था विस्फोटक शतक:

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने बारिश से बाधित 38-38 ओवरों के इस फाइनल में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और ओपनर एडम गिलक्रिस्ट ने उनके फैसले को सही साबित किया। गिलक्रिस्ट ने विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए मैथ्यू हेडन के साथ ऑस्ट्रेलिया को तूफानी शुरुआत दिलाई। इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 172 रन जोड़े जिसमें हेडन का योगदान सिर्फ 38 रनों का था। गिलक्रिस्ट ने 72 गेंदों में शतक जड़ा। वे 104 गेंदों में 13 चौकों और 8 छक्कों की मदद से 149 रन बनाकर आउट हुए। उनकी जोरदार शतकीय पारी की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने 4 विकेट पर 281 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया।

खराब रोशनी में श्रीलंका से करवाई गई बल्लेबाजी:

इसके जवाब में जब श्रीलंका ने 33 ओवरों में 7 विकेट पर 206 रन बनाए थे तभी खराब रोशनी के कारण खेल रोकना पड़ा। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी यह सोचकर जश्न मनाने लगे कि चूंकि दूसरी पारी के 20 से ज्यादा ओवर हो चुके थे, इसलिए वे मैच जीत चुके हैं लेकिन अंपायरों ने उन्हें बताया कि अभी 3 ओवरों का खेल और होगा। श्रीलंका के सामने 36 ओवरों में 269 रनों का संशोधित टारगेट रखा गया और अंधेरे में ऑस्ट्रेलियाई स्पिनरों के सामने उनसे बल्लेबाजी करवाई गई। श्रीलंका 8 विकेट पर 215 रन बना पाया और ऑस्ट्रेलिया ने यह मैच डकवर्थ-लुईस पद्धति के आधार पर 53 रनों से जीतकर खिताब अपने नाम किया। यह ऑस्ट्रेलिया का चौथा आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप खिताब था। शतकवीर गिलक्रिस्ट को मैन ऑफ द मैच और ग्लेन मॅक्ग्राथ को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags