Narendra Hirwani का टेस्ट करियर ज्यादा लंबा नहीं चला लेकिन इस दौरान उन्होंने ऐसा कमाल किया था कि उन्हें आज भी याद किया जाता है। पूर्व भारतीय लेग स्पिनर Narendra Hirwani द्वारा 32 साल पहले बनाया गया वर्ल्ड रिकॉर्ड अभी भी कायम है। उन्होंने यह करिश्मा अपने डेब्यू टेस्ट मैच में किया था।

उत्तरप्रदेश में जन्मे और मध्यप्रदेश से खेले Narendra Hirwani ने 11 जनवरी 1988 को चेन्नई (तत्कालीन मद्रास) में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। अपने पहले ही टेस्ट मैच में उन्होंने कैरेबियाई बल्लेबाजों को मायाजाल में उलझाया था। उन्होंने इस टेस्ट में कुल 33.5 ओवरों में 136 रन देते हुए 16 विकेट लिए थे। उन्होंने इसी के साथ डेब्यू टेस्ट मैच में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन के ऑस्ट्रेलिया के बॉब मैसी के 16 साल पुराने वर्ल्ड रिकॉर्ड को ध्वस्त किया था। मैसी ने 1972 में लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ अपने पदार्पण टेस्ट मैच में 60.1 ओवरों में 137 रन देकर 16 विकेट लिए थे।

चार टेस्ट मैचों की सीरीज में पहला मैच हार चुके भारत ने दूसरे टेस्ट के लिए Narendra Hirwani को टीम में शामिल किया और इसके बाद तो इस 19 साल के स्पिनर ने इतिहास रच दिया। भारत ने पहली पारी में 382 रन बनाए, इसमें कपिलदेव ने शानदार शतक (109) लगाया। इसके जवाब में वेस्टइंडीज की पहली पारी 184 रनों पर सिमटी। अपने पहले ही इंटरनेशनल मैच में Narendra Hirwani ने घातक गेंदबाजी करते हुए 61 रनों पर 8 विकेट लिए। सिर्फ विवियन रिचर्ड्स ही अर्द्धशतक (68) लगा पाए, उन्हें भी Narendra Hirwani ने बोल्ड किया।

पहली पारी में 198 रनों की बढ़त लेने के बाद भारत ने दूसरी पारी 8 विकेट पर 217 रन बनाकर घोषित करते हुए वेस्टइंडीज के सामने 416 रनों का टारगेट रखा। Narendra Hirwani की चमत्कारिक गेंदबाजी के सामने दूसरी पारी में भी वेस्टइंडीज के बल्लेबाज टिक नहीं पाए। उन्होंने विंस्टन डेविस को विकेटकीपर किरण मोरे के हाथों स्टंप करवाते हुए अपना आठवां विकेट लेकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया और वेस्टइंडीज की दूसरी पारी 160 रनों पर सिमट गई। Narendra Hirwani ने दूसरी पारी में 75 रनों पर 8 विकेट लिए। भारत ने यह मैच 255 रनों से जीता।

17 टेस्ट मैच ही खेल पाए Narendra Hirwani :

Narendra Hirwani का इंटरनेशनल करियर लंबा नहीं चल पाया। उन्होंने टेस्ट करियर की शुरुआत 1988 में की और अपना अंतिम टेस्ट 1996 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला। उन्होंने इस दौरान 17 टेस्ट मैचों में 30.10 की औसत से 66 विकेट लिए। उन्होंने 18 वनडे मैचों में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया और 31.26 की औसत से 23 विकेट झटके। वे 167 फर्स्ट क्लास मैचों में 732 विकेट ले चुके थे। क्रिकेट से संन्यास के बाद Narendra Hirwani नेशनल सिलेक्टर भी रहे। वर्तमान में वे नेशनल क्रिकेट एकेडमी के साथ स्पिन कोच के रूप में जुड़े हैं।

Posted By: Kiran Waikar

fantasy cricket
fantasy cricket