मल्टीमीडिया डेस्क। Ashes Series 2019: किस्मत से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान बने टिम पेन के पास ओवल में गुरुवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रहे एशेज सीरीज के अंतिम टेस्ट मैच के दौरान इतिहास रचने का मौका रहेगा।

ऑस्ट्रेलिया की टीम यदि ओवल टेस्ट को जीत लेती है या इस मैच को ड्रॉ भी करवा लेती है तो पेन का नाम इंग्लैंड में एशेज सीरीज जीतने वाले ऑस्ट्रेलियाई कप्तानों की लिस्ट में शामिल हो जाएगा। ऑस्ट्रेलिया अभी पांच मैचों की सीरीज में 2-1 से आगे है। पिछले 18 सालों से ऑस्ट्रेलिया की टीम इंग्लैंड में यह उपलब्धि हासिल नहीं कर पाई है। स्टीव वॉ की ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 18 साल पहले इंग्लैंड में 4-1 से जीत दर्ज की थी।

पेन ने यदि ऐसा कर लिया तो वे ग्रैग चैपल, रिकी पोंटिंग और माइकल क्लार्क जैसे दिग्गज कप्तानों को पीछे छोड़ देंगे। ये महान कप्तान भी अपने नेतृत्व में ऑस्ट्रेलियाई टीम को इंग्लैंड में एशेज सीरीज नहीं दिलवा पाए थे।

पेन को किस्मत से मिली थी ऑस्ट्रेलिया की कमान :

ऑस्ट्रेलिया का कप्तान बनना गौरव की बात होती है लेकिन पेन को यह दायित्व किस्मत से मिला। मार्च 2018 में केपटाउन टेस्ट में बॉल टैंपरिंग की वजह से कप्तान स्टीव स्मिथ और उपकप्तान डेविड वॉर्नर को एक साल के लिए प्रतिबंधित किया गया था। इसकी वजह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने टिम पेन को टीम का कप्तान नियुक्त किया। साल 2010 में लॉर्ड्स में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट डेब्यू करने वाले पेन साल 2017 में क्रिकेट से संन्यास लेने के बारे में सोच रहे थे। उन्होंने इसके बाद टीम में वापसी की और एक साल के अंदर ही किस्मत से कप्तान बन गए। पेन के पास अब इस मौके को यादगार बनाते हुए अपना नाम महान कप्तानों की सूची में शामिल करने का मौका है।