मेलबर्न। Australia vs India: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया चाहता है कि टीम इंडिया अगले साल ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर दो डे-नाइट टेस्ट मैच खेले। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान चैपल का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया को भारत के साथ दो डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेलना चाहिए क्योंकि उसका यह फैसला मेजबान टीम के लिए भारी पड़ सकता है।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चेयरमैन अर्ल एडिंग्स ने पिछले दिनों कहा था कि वे अगले साल भारत के खिलाफ सीरीज में एक से ज्यादा डे-नाइट टेस्ट मैच खेलना चाहते हैं। इयान चैपल ने ईएसपीएन क्रिकइंफो में अपने कॉलम में लिखा, भारत के पास मजबूत तेज गेंदबाजी आक्रमण है और इसके चलते ऑस्ट्रेलिया का यह दांव उलटा पड़ सकता है। इस वजह से ऑस्ट्रेलिया को भारत के खिलाफ दो पिंक बॉल टेस्ट मैच नहीं खेलना चाहिए।

भारत ने अभी तक मात्र एक डे-नाइट खेला है जिसमें उसने बांग्लादेश को तीन दिनों के अंदर पारी के अंतर से हरा दिया था। चैपल ने लिखा, टेस्ट क्रिकेट में भारत एक मजबूत टीम है और दो डे-नाइट टेस्ट मैच का प्लान ऑस्ट्रेलिया की बजाए भारत के लिए ज्यादा लाभकारी साबित हो सकता है। विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया में अपनी नेतृत्व क्षमता पहले ही साबित कर चुके हैं।

ऑस्ट्रेलियाई टीम अगले साल सीमित ओवरों की सीरीज के लिए भारत का दौरा करने वाली है और उस दौरान एंडिग्स की अगुवाई में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में बीसीसीआई पदाधिकारियों से चर्चा करेगा। एडिंग्स ने कहा, भारतीय टीम अपना पहला डे-नाइट टेस्ट मैच खेल चुकी है और उसने वह मैच आसानी से जीता था। इसके चलते अब बीसीसीआई को इस बारे में फैसला लेने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। हमें विश्वास है कि वे एक डे-नाइट टेस्ट पर राजी होंगे और एक से ज्यादा टेस्ट मैच खेलने के प्रस्ताव को भी स्वीकार सकते हैं। वैसे इस बारे में जनवरी में बात होगी।

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली खुद इस पक्ष में है कि भारत को डे-नाइट टेस्ट मैच खेलना चाहिए और उनकी वजह से भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला डे-नाइट टेस्ट मैच खेला था। कोलकाता में हुए इस पिंक बॉल टेस्ट को भारत ने तीन दिनों के अंदर जीत लिया था।

Posted By: Kiran Waikar

fantasy cricket
fantasy cricket