लंदन। इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स के परिवार को लेकर ब्रिटेन एक अखबार द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट के मामले में स्टोक्स को अपने क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) का सपोर्ट मिला है। ईसीबी ने भी इसे लेकर अखबार की आलोचना की है। बता दें कि ब्रिटेन के इस अखबार में अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि 30 साल पहले स्टोक्स की मां के पूर्व पति ने स्टोक्स के सौतेले भाई और बहन की हत्या कर दी थी। इस पर खुद स्टोक्स नाराजगी जता चुके हैं।

अब ईसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टॉम हैरिसन ने बेन स्टोक्स का समर्थन किया है। हैरिसन ने कहा - मैं मंगलवार को 'द सन' टेबलॉयड के पहले पन्ने पर छपी खबर को लेकर बेहद हैरान हूं। हम खेल जगत के अन्य लोगों की तरह बेन के अतीत की त्रासदीपूर्ण घटनाओं समाचार पत्र में छपने से हैरान हैं। हम दुखी हैं कि समाचार पत्र बेचने या वेबसाइट पर अधिक क्लिक के लिए इस हद तक निजता को जरूरी समझा गया। हमें यकीन है कि पूरा खेल और पूरा देश उसके साथ खड़ा है।

गौरतलब है कि स्टोक्स ने 30 साल पहले अपने परिवार से जुड़ी त्रासदी की खबर छापने के लिए ब्रिटेन के समाचार पत्र के व्यवहार को अनुचित बताया था और इस खबर को बेहद घृणित करार दिया था। स्टोक्स का जन्म न्यूजीलैंड में हुआ था लेकिन यह 28 वर्षीय क्रिकेटर बचपन में ही इंग्लैंड आ गया।

टूटे अंगूठे के साथ पांचवें टेस्ट में खेले थे पेन

मेलबोर्न। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने बताया है कि वे एशेज सीरीज के पांचवें टेस्ट में अधिकतर समय टूटे हुए अंगूठे के साथ खेले थे। साथ ही तेज गेंदबाज पीटर सिडल को भी कूल्हे में चोट थी, इसके बावजूद वह खेलते रहे थे। आखिरी टेस्ट में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को मात देकर सीरीज 2-2 से ड्रॉ करा ली थी। ऑस्ट्रेलिया ने एशेज अपने पास ही रखी है।

पेन ने कहा - टेस्ट के आखिर में मेरा अंगूठा टूट गया था, लेकिन यह अपनी जगह से अस्थिर नहीं हुआ था। इसलिए मुझे ट्रेनिंग में जल्दी लौटना था। मैं देखना चाहता हूं कि हम टेस्ट टीम को कितना आगे ले जाना चाहते हैं इसलिए मैंने बीबीएल नहीं खेलने का फैसला किया ताकि मैं टेस्ट क्रिकेट पर ध्यान दे सकूं और टेस्ट टीम का नेतृत्व अच्छी तरह से कर सकूं। कप्तान होना काफी थकान वाला काम है और मुझे लगता है कि मुझे अपने आप को चार्ज करने का हर मौका पूरी तरह से भुनाना चाहिए।

Posted By: Rahul Vavikar

fantasy cricket
fantasy cricket