कराची (एजेंसियां)। बिरयानी खाने के कारण पाकिस्तानी क्रिकेटरों की इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप के दौरान बहुत किरकिरी हुई थी। लेकिन अब पाकिस्तानी क्रिकेटर बिरयानी नहीं खा पाएंगे। दरअसल टीम के नए कोच मिस्बाह उल हक ने टीम का फिटनेस लेवल बढ़ाने के लिए खिलाड़ियों के लिए नया डाइट चार्ट लागू किया है। इसके मुताबिक पाकिस्तान के खिलाड़ी बिरयानी और ज्यादा तेल वाले खाद्य पदार्थ और मिठाई नहीं खा सकेंगे।

बता दें कि वर्ल्ड कप में जब पाकिस्तान को भारत के हाथों हार मिली थी, तब पाकिस्तानी खिलाड़ियों की फिटनेस पर सवाल उठे थे। पाकिस्तानी फैंस ने कप्तान सरफराज अहमद और अन्य क्रिकेटरों के बिरयानी खाने को लेकर काफी किरकिरी की थी। सोशल मीडिया पर वायरल हुए कई वीडियो में फैंस ने अपने खिलाड़ियों का पिज्जा, बर्गर, बिरयानी खाने को लेकर जमकर मजाक बनाया गया था।

लेकिन टीम की कमान संभालते ही नए कोच मिस्बाह उल हक ने अपने खिलाड़ियों के लिए स्ट्रीक्ट डाइट प्लान लागू किया है। मिस्बाह ने खिलाड़ियों की फिटनेस को सबसे ज्यादा तवज्जो दी है। उन्होंने राष्ट्रीय कैम्प और घरेलू टूर्नामेंट में खिलाड़ियों की डाइट से हैवी फूड बाहर कर दिया है। उनके मुताबिक मौजूदा प्रतिस्पर्धात्मक क्रिकेट में टीम में नया फिटेनस कल्चर लाना बहुत जरूरी है। ऐसे में खिलाड़ियों को बिरयानी, मिठाई जैसी वस्तुओं से दूर रहना होगा।

मिस्बाह ने साफ कर दिया है कि खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने के लिए फिटनेस बनाए रखना जरुरी होगा। मिस्बाह ने खिलाड़ियों के फिटनेस लेवल बनाए रखने के लिए एक लॉग बुक बनाई है और खिलाड़ियों को उसका पालन करना अनिवार्य होगा। इधर पाकिस्तान की घरेलू क्रिकेट स्पर्धा कायदे आजम ट्रॉफी में खिलाड़ियों के लिए भोजन व्यवस्था देख रही कंपनी ने बताया खिलाड़ियों को बिरयानी और तेल युक्त रेड मीट वाला भोजन या मिठाई नहीं दी जाएगी।

दरअसल पाकिस्तान के खेल पत्रकार साज सादिक ने ट्वीट कर मिस्बाह के इस फैसले के बारे में बताया। इसमें उन्होंने लिखा - मिस्बाह उल हक ने घरेलू टूनार्मेंट और राष्ट्रीय कैम्प में खिलाड़ियों के लिए डाइट प्लान को बदला है।खिलाड़ी अब बिरयानी, मिठाइयां नहीं खा सकेंगे।

बहरहाल अपने कॉन्ट्रेक्ट के साथ मिस्बाह टीम के भविष्य को लेकर काफी प्रभावी प्लान लेकर आए हैं। उन्होंने टीम के प्रदर्शन को लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से कुछ वादे भी किए हैं। हेड कोच होने के साथ ही मिस्बाह चीफ सिलेक्टर भी हैं। ऐसे में वे अपने लिए फिट खिलाड़ी चाहते हैं। जिस फिटनेस को लेकर वर्ल्ड कप के दौरान टीम का मजाक बना, उसे वे पीछे छुड़ाना चाहते हैं। बता दें कि पाकिस्तान वर्ल्ड कप में ग्रुप स्टेज से आगे नहीं बढ़ पाया था।

इधर पाकिस्तानी टीम श्रीलंका के खिलाफ होने वाली वनडे और टी-20 सीरीज की तैयारियों में जुटी है। मिस्बाह ने इस सीरीज के लिए 20 खिलाड़ियों को चुना है और इनका नेशनल कैम्प 18 सितंबर से शुरू होगा। कोच ने सभी खिलाड़ियों के डाइट को लेकर सख्त हिदायत दे दी है। मिस्बाह इन्हीं पैमाने पर खिलाड़ियों को परखेंगे, ये तय है। बता दें कि 27, 29 सितंबर और 3 अक्टूबर को कराची के नेशनल स्टेडियम में 3 वनडे खेले जाएंगे। उसके बाद 5, 7 और 9 अक्टूबर को लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में 3 टी 20 मैच खेले जाएंगे।

Posted By: Rahul Vavikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना