मुंबई (एजेंसियां)। इंग्लैंड में हुए आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के दौरान सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के स्थान पर रिषभ पंत को शामिल करने को लेकर विवाद की स्थिति बनीं थी। लेकिन टीम इंडिया के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने इस विवाद को लेकर स्थिति साफ की है। प्रसाद ने कहा चोटिल खिलाड़ियों की जगह विकल्‍प के तौर पर भेजे गए खिलाड़ियों को लेकर कोई उलझन नहीं है। प्रसाद ने हालांकि माना कि इन मामलों में बीसीसीआई की ओर से जानकारी देने के लिए वेबसाइट पर जानकारी नहीं दी जा सकी थी और इसी कारण गफलत की स्थिति बनीं।

गौरतलब है कि रिषभ पंत को जब धवन के स्थान पर इंग्लैंड भेजा गया था, तब कई सवाल खड़े हुए थे। यहां तक ये भी कहा गया कि जब केएल राहुल इंग्लैंड में मौजूद हैं तो पंत को क्यों भेजा गया। हालांकि बाद में राहुल ने ही पारी की शुरुआत की और पंत को चौथे स्थान पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया। बता दें कि विश्‍व कप के शुरुआती दो मुकाबले में राहुल ने चौथे स्थान पर बल्लेबाजी की थी, लेकिन धवन के चोटिल होने के बाद राहुल ने ओपनिंग की।

इतना ही नहीं जब विजय शंकर चोट के कारण विश्‍व कप से बाहर हुए तो उनकी जगह मयंक अग्रवाल को इंग्‍लैंड भेजा गया। इस दौरान भी बोर्ड की ओर से कोई अधिकृत जानकारी नहीं दी गई। मयंक जब इंग्लैंड पहुंच गए तब इस वैकल्पिक खिलाड़ी के बारे में जानकारी मिली।

प्रसाद ने वेस्‍टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम की घोषणा के दौरान मीडिया की ओर से इस बारे में हुए सवालों के जवाब दिए। उन्होंने कहा - खिलाड़ियों के चयन के संबंध में एक नीति है कि सीरीज या विश्‍व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट के दौरान मीडिया से चर्चा नहीं की जाती, इससे कई तरह के सवाल उठते हैं। लेकिन चयन समिति को बोर्ड की परंपराओं का निर्वहन करना है। लेकिन भविष्य में इस तरह संशय की स्थिति ना बनें, इसका ध्यान रखा जाएगा।

प्रसाद ने कहा- जब धवन चोटिल हुए तो टीम में केएल राहुल के रूप में पहले से ही रिजर्व ओपनर शामिल थे। उस समय हमे बाएं हाथ के बल्‍लेबाज की जरुरत थी, हमने रिषभ पंत को भेजा। उनके अलावा हमारे पास कोई बेहतर विकल्‍प नहीं था। पंत वैसे भी वर्ल्ड कप टीम के लिए दावेदार थे। ऐसे में टीम की जरुरत को देखते हुए पंत का चयन किया गया। वहीं विजय शंकर के चोटिल होने पर मयंक को इसलिए भेजा गया क्योंकि उस दौरान राहुल भी चोटिल हो गए थे। राहुल मैच के दौरान फील्डिंग करते समय पीठ के बल गिर गए थे। हमें टीम का एक मेल मिला जिसमें बैक अप ओपनर की जरुरत बताई गई। ऐसे में हमने मयंक अग्रवाल को इंग्लैंड को भेजा। लिहाजा पूरी चयन समिति ने टीम प्रबंधन से चर्चा के बाद ही ये फैसले लिए।

गौरतलब है कि विश्व कप में भारतीय टीम का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में उसे हार का सामना करना पड़ा। न्‍यूजीलैंड ने भारत को 18 रन से हराया था। अब भारतीय टीम वेस्‍टइंडीज के दौरे पर जाएगी जहां वो 3 मैचों की टी-20 सीरीज, 3 मैचों की वनडे और 2 मैचों की टेस्‍ट सीरीज खेलेगी। वेस्टइंडीज का ये दौरा 3 अगस्त से 3 सितंबर तक चलेगा।

धोनी नहीं लेंगे संन्यास, खेल सकते हैं टी20 वर्ल्ड कप !

महेला जयवर्धने ने जताई भारतीय टीम के कोच बनने की इच्छा, ये पूर्व खिलाड़ी भी दौड़ में

ये युवा विकेटकीपर बल्लेबाज भी टेस्ट टीम का बड़ा दावेदार, जल्द ही दिखाई देगा टीम में

अगले विश्व कप से पहले पाकिस्तान की टीम सुधार दूंगा - इमरान


Posted By: Rahul Vavikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Independence Day
Independence Day