हैदराबाद। Cricket Player Death: मैच के दौरान हादसों में क्रिकेटरों की मौत की कई घटनाएं हुई हैं। लेकिन हैदराबाद में एक मैच के दौरान हुई दुखद घटना ने सभी को हैरान कर दिया क्योंंकि इस घटना में खिलाड़ी को कोई चोट नहीं लगी। बावजूद इसके क्रिकेटर की मौत हो गई। दरअसल खिलाड़ी को उस समय हार्ट अटैक आया जब अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया।

बता दें कि हैदराबाद में एक क्लब मैच के दौरान 41 वर्षीय बल्लेबाज वीरेंद्र नाइक की मौत हो गई। वीरेंद्र हैदराबाद में मारडपल्ली स्पोर्टिंग क्लब की ओर से खेलते थे। रविवार को उन्होंने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अर्द्धशतकीय पारी भी खेली। अंपायर ने उन्हें आउट दिया.. जब वे पैवेलियन लौटे, तभी उन्हें अटैक आया और उनकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वीरेंद्र अंपायर के गलत फैसले का शिकार हुए थे। इस तरह से आउट दिए जाने से वे नाराज थे क्योंकि वे बहुत बढ़िया बल्लेबाजी कर रहे थे और अपने शतक की ओर बढ़ रहे थे।

मीडिा रिपोर्ट्स के मुताबिक वीरेंद्र ने इस वनडे मैच की पारी में 66 रन बनाए थे। लेकिन अंपायर के गलत फैसले की वजह से वे आउट हो गए। वीरेंद्र को विकेट के पीछे कैच आउट दिया था। लेकिन वीरेंद्र अंपायर के इस फैसले से खुश नहीं थे। उनका दावा था कि गेंद ने बल्ले का किनारा नहीं लिया है। लेकिन अंपायर द्वारा आउट दिए जाने के बाद निराश होकर वे पैवेलियन लौटे। इसी दौरान उनका सिर दीवार से टकराया और वे गिर पड़े। इसी दौरान उन्हें दिल का दौरा आ गया। साथी खिलाड़ी उन्हें लेकर तुरंत सिकंदराबाद के यशोदा अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। वीरेंद्र के भाई अविनाश ने पुलिस को बताया कि वीरेंद्र छाती के रोग से पीढ़ित थे और उनकी दवाई चल रही थी। वीरेंद्र का अंतिम संस्कार उनके गांव महाराष्ट्र के सावंतवाड़ी में हुआ। बहरहाल इसी तरह की कुछ घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं।

Posted By: Rahul Vavikar