मल्टीमीडिया डेस्क। न्यूजीलैंड के रविवार को लॉर्ड्स पर इंग्लैंड के खिलाफ क्रिकेट वर्ल्ड कप के फाइनल में जीत के अवसर बढ़ गए हैं। लॉर्ड्स पर इस वर्ल्ड कप के दौरान अभी तक हुए मैचों के रिकॉर्ड के मद्देनजर ऐसा कहा जा सकता है।

लॉर्ड्स पर इस वर्ल्ड कप में इस मैच से पहले चार मैच खेले जा चुके हैं। इन चारों मैचों में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीमें विजयी हुई है। हर मैच के साथ जीत का रनों का अंतर बढ़ता गया। इंग्लैंड को इस वर्ल्ड कप में तीन हार का सामना करना पड़ा है और उसने तीनों मैचों में बाद में बल्लेबाजी की थी। वैसे उसने सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को बाद में बल्लेबाजी करते हुए हराया था। इससे उसका आत्मविश्वास भी जागा होगा।

पाकिस्तान ने दक्षिण अफ्रीका को 49 रनों से हराया :

पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पाक ने 7 विकेट पर 308 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका 9 विकेट पर 259 रन ही बना पाया।

ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 64 रनों से हराया :

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला किया जो उसे भारी पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी कर 7 विकेट पर 258 रन बनाए। इसके जवाब में इंग्लैंड की पारी 44.4 ओवरों में 221 रनों पर सिमट गई।

ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 86 रनों से पराजित किया :

ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। कंगारू टीम ने 9 विकेट पर 243 रन बनाए। इसके जवाब में न्यूजीलैंड की पारी 157 रनों पर सिमट गई और ऑस्ट्रेलिया ने बड़े अंतर से जीत दर्ज की।

पाकिस्तान ने बांग्लादेश को 94 रनों से शिकस्त दी :

पाकिस्तान को सेमीफाइनल की संभावनाओं को बनाए रखने के लिए बांग्लादेश पर असंभव से अंतर से जीत दर्ज करनी थी। वह ऐसा तो नहीं कर पाया लेकिन उनसे 94 रनों से जीत अवश्य दर्ज की। उसने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 325 रन बनाए। इसके जवाब में बांग्लादेश की पारी 44.1 ओवरों में 221 रनों पर सिमट गई।