जयपुर (ब्यूरो)। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 5 सालों बाद राजस्थान क्रिकेट संघ (आरसीए) की मान्यता बहाल कर दी है। इसके अलावा बीसीसीआई ने आरसीए के नए संविधान को भी मंजूरी दे दी है। अब आरसीए में नए सिरे से चुनाव होंगे और राजस्थान में क्रिकेट की प्रतिभाओं को बेहतर अवसर मिल सकेगा।

आरसीए अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने अध्यक्ष चुने जाने के बाद आईपीएल मैच कराने और बीसीसीआई से प्रतिबंध हटवाने का वादा किया था। आईपीएल मैच कराए जा चुके है और अब बीसीसीआई का प्रतिबंध भी हट गया।

मीडिया से बात करते हुए जोशी ने कहा कि हमने बीसीसीआई की शर्ते मानते हुए संविधान में बदलाव किया था। इसे बीसीसीआई ने मंजूर कर लिया है। इसके बाद बीसीसीआई में राजस्थान का प्रतिनिधित्व भी हो सकेगा। आरसीए पर 6 मई 2014 को प्रतिबंध लगाया गया था। उस समय ललित मोदी आरसीए के अध्यक्ष बने थे। प्रतिबंध के कारण आरसीए को बीसीसीआई से कोई वित्तीय सहायता नहीं मिल पा रही थी और न आईपीएल मैच हो पा रहे थे। 2017 में अध्यक्ष चुने जाने के बाद डॉ. जोशी ने वर्ष 2018 में आईपीएल मैचों की फिर शुरुआत करवाई और अब इसकी मान्यता भी बहाल हो गई है।