बेंगलुरु। कप्तान पार्थिव पटेल (105) की शानदार शतकीय पारी के बाद आरपी सिंह (4/42) और जसप्रीत बुमराह (5/28) की धारदार गेंदबाजी के दम पर गुजरात ने सोमवार को दिल्ली को हराकर प्रतिष्ठित घरेलू वनडे टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी पर पहली बार कब्जा जमाया।

गुजरात ने निर्धारित 50 ओवर में दस विकेट पर 273 रन बनाए, जिसके जवाब में सितारों से सजी दिल्ली की टीम महज 32.3 ओवर में 134 रन पर सिमट गई।

दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर ने टॉस जीतकर गुजरात को बल्लेबाजी का न्योता दिया। नवदीप सैना ने पीके पंचाल (14) और इशांत शर्मा ने भार्गव मेराई (05) को फटाफट आउट करके कप्तान के फैसले का समर्थन किया। 44 रन पर दो विकेट गंवा देने के बावजूद एक छोर पर खड़े सलामी बल्लेबाज पार्थिव ने अपने अंदाज में बेहिचक शॉट खेलते रहे। उन्हें रुजुल भट (60) का अच्छा साथ मिला।

20वें ओवर में 60 गेंदों पर पार्थिव ने अपना अर्धशतक पूरा किया। साथ ही टीम के स्कोर को तीन अंकों में पहुंचाया। इसके बाद उन्होंने अपनी रनगति और तेज कर दी। दूसरे छोर पर खड़े भट ने भी कुछ आकर्षक शॉट लगाए और 63 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया। 35वें ओवर की पहली गेंद पर दो रन लेकर पार्थिव ने अपना पहला लिस्ट-ए शतक पूरा किया।

37वें ओवर में नीतीश राणा ने भट को आउट करके 149 रन की साझेदारी का अंत किया। अगले ही ओवर में पार्थिव भी पवन नेगी का शिकार हो कर पवेलियन लौट गए। पार्थिव ने अपनी 119 गेंद की पारी में 10 चौके लगाए, वहीं भट ने 74 गेंद पर चार चौके और एक छक्का लगाया।

इन जोड़ी के आउट होने तक टीम अच्छी स्थिति में पहुंच चुकी थी और चिराग गांधी (नाबाद 44) ने एक छोर संभालते हुए स्कोर को आगे बढ़ाया। पारी की आखिरी गेंद पर आखिरी विकेट गिरने से पहले टीम ने बोर्ड पर 273 टांग दिए।

इसके बाद दूधिया रोशनी में लक्ष्य का पीछा करने उतरे दिल्ली के बल्लेबाजों पर आरपी कहर बनकर टूट पड़े। पहली ही गेंद पर उन्होंने ऋषभ पंत (00) का बोल्ड कर दिया। अपने तीसरे ओवर में उन्होंने दूसरे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (05) को चलता किया।

इसके बाद अपने पांचवें और पारी के नौवें ओवर में उन्होंने कप्तान गौतम गंभीर (09) को आउट कर विपक्षी टीम की कमर तोड़ दी। लय में नजर आ रहे आरपी को कप्तान पार्थिव ने अटैक पर लगाए रखा और 11वें ओवर में उन्होंने मिलिंद कुमार (00) को पगबाधा करके दिल्ली को खिताब की दौड़ से बाहर कर दिया।

31 रन पर चार विकेट गंवा देने के बाद दिल्ली की टीम फिर मैच में कभी वापसी करते नजर नहीं आई। आरपी के बाद जसप्रीत बुमराह ने विकेट गिराने का जिम्मा उठाया और दिल्ली की टीम किसी तरह अपने पुछल्ले बल्लेबाजों की मदद से तीन अंकों का आंकड़ा पार कर पाई।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020