एडिलेड। जोस हेजलवुड की करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी (70/6) की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड को 3 विकेटों से हरा दिया। घरेलू टीम ने 187 रनों के लक्ष्य को मैच के तीसरे दिन 51 ओवरों में 7 विकेट खोकर हासिल कर लिया। ऑस्ट्रेलिया ने इसी के साथ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज भी 2-0 से जीत ली। हेजलवुड को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे ऑस्ट्रेलिया को पहला झटका जल्दी लगा जब बोल्ट ने जो बर्न्स (11) को एलबीडब्ल्यू किया। इसके बाद डेविड वॉर्नर (35) भी ज्यादा समय तक नहीं टिक पाए और ब्रेसवेल के शिकार बने। बोल्ट ने कप्तान स्टीवन स्मिथ (14) को जल्दी आउट कर मैच को रोमांचक बनाने की कोशिश की। घरेलू मध्यक्रम के बल्लेबाजों ने जिम्मेदारीभरा प्रदर्शन किया। शॉन मार्श के साथ चौथे विकेट के लिए 49 रनों की साझेदारी करने के बाद एडम वोग्स (28) भी बोल्ट के शिकार बने। इसके बाद मार्श बंधुओं ने पारी को संभाला। शॉन के साथ छठे विकेट के लिए 46 रन जोड़ने के बाद मिचेल मार्श ने सेंटनर की गेंद पर विलियम्सन को कैच थमाया। शॉन मार्श अर्द्धशतक से चूके और 49 रन बनाकर बोल्ट की गेंद पर बोल्ट की गेंद पर टेलर को कैच दे बैठे। इसके बाद बोल्ट ने पीटर नेव्हिल (10) को विकेटकीपर बीजे वाटलिंग के हाथों झिलवाकर अपना पांचवां विकेट हासिल किया।पीटर सिडल (9*) और मिचेल स्टार्क (0 नाबाद) ने जीत की औपचारिकताएं पूरी की। ट्रेंट बोल्ट ने 60 रनों पर 5 विकेट लिए।

इससे पहले तीसरे दिन सुबह न्यूजीलैंड ने दूसरी पारी में 116/5 से आगे खेलना शुरू किया और उनकी पारी 208 रनों पर सिमट गई। पदार्पण टेस्ट खेल रहे सेंटनर ने अच्छी पारी खेली, लेकिन उन्हें दूसरे छोर से उचित सहयोग नहीं मिल पाया। सेंटनर 5 चौकों व 1 छक्कों की मदद से 45 रन बनाने के बाद लियोन के शिकार बने। हेजलवुड ने बीजे वाटलिंग (7), मार्क क्रैग (15) और ट्रेंट बोल्ट (5) के शिकार किए। हेजलवुड ने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 70 रनों पर 6 विकेट लिए।

Posted By: