सिडनी। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने गुरुवार को कहा कि एशेज सीरीज में किए गए शानदार प्रदर्शन के बाद स्टीव स्मिथ एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के कप्तान बनेंगे। पूर्व कप्तानों इयान चैपल और रिकी पोंटिंग ने भी इस बात का समर्थन किया।

स्मिथ को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट के बॉल टैंपरिंग मामले के बाद 12 महीनों के लिए बैन किया गया था। उन्हें इसके अलावा दो सालों के लिए कप्तानी संभालने पर भी दो साल का बैन लगाया गया था। यह प्रतिबंध अगले साल मार्च में समाप्त होगा।

स्मिथ की अनुपस्थिति में टिम पेन ने टीम की कमान संभाली और उनके नेतृत्व में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड में चल रही एशेज सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है। टीम 18 साल बाद इंग्लैंड में एशेज जीतने के करीब पहुंच चुकी है। पेन दिसंबर में 35 साल के हो जाएंगे। ऑस्ट्रेलिया जब तीसरा टेस्ट हारा था तो उनकी नेतृत्व क्षमता पर उंगलियां उठाई गई थी लेकिन मैनचेस्टर में चौथा टेस्ट जीतते ही हर कोई पेन की तारीफ कर रहा है। उस्मान ख्वाजा और ट्रेविस हेड को भविष्य के कप्तान के रूप में देखा जा रहा था लेकिन इन दोनों का एशेज सीरीज में प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा। पैट कमिंस और जोस हेजलवुड को कप्तानी सौंपे जाने की संभावना कम ही है।

टेलर उस वक्त ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड से जुड़े थे जब स्मिथ, उपकप्तान डेविड वॉर्नर और कैमरान बेनक्रॉफ्ट को बॉल टैंपरिंग मामले में सजा सुनाई गई थी। टेलर ने सिडनी मॉर्निंग हेरॉल्ड में अपने कॉलम में लिखा, मेरा मानना है कि स्मिथ एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के कप्तान बनेंगे। उन्हें दूसरा मौका देना चाहिए, उन्होंने अपनी गलती की कड़ी सजा भुगत ली है।

टेलर ने कहा कि पेन को गर्मियों में पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली सीरीज में कप्तान बनाए रखा जाना चाहिए। मैं स्मिथ को तुरंत कप्तान बनाए जाने की बात नहीं कर रहा हूं, लेकिन जब पेन कप्तान के पद से हटेंगे तो पहले दावेदार स्मिथ ही होंगे। यह छह महीने या दो या तीन साल में भी हो सकता है।

एक अन्य पूर्व कप्तान इयान चैपल ने भी स्मिथ को फिर कप्तान बनाए जाने की वकालत की। उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि ऑस्ट्रेलिया के साथ समस्या यह है कि उनके अलावा ऐसा कोई नहीं है जिसे कप्तान बनाया जा सके। पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने कहा कि उन्हें भी स्मिथ को वापस कप्तान बनाए जाने से कोई समस्या नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को कोई समस्या होती तो वो स्मिथ की कप्तानी पर आजीवन प्रतिबंध लगाता।